India News

Nice Attack: इस देश के पूर्व PM ने कहा मुस्लिमों को नरसंहार का हक, भोपाल-मुंबई में इंडियन मुस्लिमों ने किया हंगामा

Nice Attack: जज्बातों की लड़ाई ने इंसानियत का फर्ज भुला कर फ्रांस में जिन घटनाओं को जन्म दिया है वह पूरी दुनिया को हिला कर रख देता है, यही वजह है कि भारत फ्रांस के साथ खड़ा है, प्रधानमंत्री मोदी ने इन आतंकी घटनाओं की निंदा की है और फ्रांस के साथ मिलकर आतंक के खिलाफ लड़ाई की बात कही है.

वहीं भारत के मुस्लिम दो गुटों में बंट चुके हैं, कुछ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) के बयानों से बेहद खफा होकर मुंबई और भोपाल जैसे बड़े शहरों में कोरोना गाइडलाइन्स को ताक पर रखकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं जबकि कुछ, बेगुनाहों को मौत के घाट उतारने वालों के खिलाफ बोल रहे हैं.

यह भी पढ़ें:  Bharti Singh: राजू श्रीवास्तव के बाद जॉली लीवर ने दी भारती सिंह को नसीहत, संजू बाबा का दिया उदाहरण

मुंबई की सड़कों पर राष्ट्रपति मैक्रों के पोस्टर्स चिपकाए गए हैं, जिनके उपर लोग पैदल चल रहे हैं, भोपाल में भारी संख्या में एक ही जगह पर जनसैलाब फ्रांस के खिलाफ नारे बाजी कर रहा है. सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा धार्मिक लड़ाई का रुख कर चुका है.

वहीं फ्रांस के नीस हमले (Nice Attack) के बाद मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर बिन मोहम्मद (Mahathir bin Mohamad) ने जो बयान दिया है, वह सभी को हैरान करने वाला है. चर्च के अंदर तीन बेगुनाहों का बर्बरता से कत्ल करने वाले आतंकवादी के खिलाफ बोलने के बजाय वह हिंसा को बढ़ावा देने वाला स्टेटमेंट देते हैं, उनका कहना है पूर्व में मुसलमानों पर जो जुर्म हुए हैं उसके बदले वह लाखों फ्रांस की आवाम का कत्ल करने के हकदार हैं.

यह भी पढ़ें:  Pretty MIke: कौन है वो शख्स जो आधे दर्जन गर्भवती पत्नियों के साथ पहुंचा पार्टी में, जीता है किंग साइज लाइफ

महातिर बिन मोहम्मद ने राष्ट्रपति मैक्रों को उनके बयानों के लिए असभ्य बताया, उनका कहना है एक मुस्लिम की वजह से वह पूरे इस्लाम के बारे में गलत नहीं बोल सकते हैं. पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने के बदले फ्रांसीसी शिक्षक सैमुअल पैटी की निर्मम हत्या की गई थी, इसके बाद नीस चर्च में तीन अन्य का सर कलम कर दिया गया है.

सोशल मीडिया पर आतंकी घटनाओं व फ्रांस के विरोध में प्रदर्शनों को लेकर बड़ा आक्रोश है:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top