Derek Chauvin: अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड के हत्या मामले में पुलिस अधिकारी को 22 साल की जेल

JBT Staff
JBT Staff June 26, 2021
Updated 2021/06/26 at 6:13 PM

Derek Chauvin: अमेरिका का बहुचर्चित अश्वेत शख्स जॉर्ज फ्लॉयड हत्याकांड के बारे में कौन नहीं जानता, पुलिस ऑफिसर द्वारा शख्स की गर्दन को 9 मिनट तक गुटने के बल दबोचा गया था जिसके बाद पूरी दुनिया में इसका कड़ा विरोध किया गया था, भारत में भी लोगों ने इसे निंदनीय करार देते हुए सोशल मीडिया पर आवाज उठाई थी.

इसका वीडियो सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गया था और अमेरिका में एक तरफ कोरोना महामरी का कहर और दूसरी तरफ लोग सड़कों पर प्रोटेस्ट करने उतर आए थे, पिछले साल कोरोना ने सबसे ज्यादा ताकतवर मुल्क अमेरिका को झकझोर के रखा था और इस जॉर्ज फ्लॉयड मर्डर केस में सड़कों पर उतरे लोगों को संभालने के लिए सरकार को कड़े रुख अपनाने पड़े थे.

एक साल बाद अप्रैल 2021 में जॉर्ज फ्लॉयड के हत्या (George Floyd Murder) मामले में पुलिस ऑफिसर डेरेक शॉविन (Derek Chauvin) को दोषी करार दिया गया था, पुलिस ऑफिसर ने कभी सोचा नहीं होगा कि उसे 22.5 साल की जेल हो जायेगी, 45 वर्षीय ऑफिसर का परिवार उन्हें निर्दोष मानता है, मां का वीडियो वायरल हो रहा है.

डेरेक की मां का कहना है वह निर्दोष है, वह एक अच्छा इंसान है, वहीं अश्वेत मृतक जॉर्ज के बारे में न कोई जिक्र व न कोई हमदर्दी की बात कहने पर लोग डेरेक की मां को खरी खोटी सुना रहे हैं. आपको बता दें जॉर्ज फ्लॉयड की उम्र 46 साल की थी, डेरेक के घुटने के नीचे 9 मिनट तक रहने के बाद उसका दम घुट गया था और उसकी मौत हो गई थी.

बताया जाता है कि 9.29 सेकंड के दौरान मृतक जॉर्ज ने लगभग 20 बार इस दौरान कहा था कि वह सांस नहीं ले पा रहा है लेकिन डेरेक ने उसपर कोई हमदर्दी नहीं बरती. वहीं डेरेक के बचाव पक्ष ने दावा किया था कि नशीली व अवैध दवाओं के सेवन से जॉर्ज फ्लॉयड की मौत हुई थी जबकि डेरेक द्वारा उचित कार्रवाई हुई थी.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.