Viral: इंडियन आर्मी पर CAA महिला प्रोटेस्टर का टॉप खींचने का आरोप, जानिए वायरल तस्वीर की सच्चाई

JBT Staff
JBT Staff January 4, 2020
Updated 2020/01/04 at 5:49 PM

Viral: 11 दिसम्बर 2019 से लगातार देशभर में नागरिकता कानून को लेकर विवाद चल रहा है, इस बीच फेक न्यूज़ व तस्वीरें भी खूब वायरल हुई. आजकल सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें इंडियन आर्मी को बदनाम किया जा रहा है.

तस्वीर में मौजूद महिला पीला टॉप पहनी हुई हैं, जबकि आर्मी की ड्रेस में जवान उनके टॉप को खींच रहा है, खुरापाती इस तस्वीर का इस्तेमाल भारतीय सेना के खिलाफ नफरत फ़ैलाने के लिए किया जबकि सूत्रों से मालूम हुआ कि यह तस्वीर तो एक दशक पुरानी तो है ही साथ ही यह इंडिया नहीं पड़ोसी देश नेपाल का है.

फेसबुक पर पिंकू गिरी नाम की यूजर ने यह तस्वीर असम (Assam) की बताई, साथ ही उन्होंने तस्वीर में मौजूद महिला को नागरिकता कानून संशोधन (CAA) प्रोटेस्टर बताया जबकि आर्मी ड्रेस के जवान पर बदतमीजी करने का आरोप लगाया.

CAA के विरोध करने वालों ने तुरंत इसे इन्टरनेट पर वायरल कर दिया, साथ ही उन्होंने आर्मी के समर्थन में भी कई लोग उतरे जिसके बाद मीडिया ने इस वायरल तस्वीर की हकीकत छान निकाली. यह तस्वीर 24 मार्च 2008 की है, जो तिब्बतन महिला प्रदर्शनकारी द्वारा काठमांडू में प्रोटेस्ट किया जा रहा है.

आपको बता दें अब भी CAA पर विरोध जारी है लेकिन पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प पर रोकथाम लगी है. अब भी मीडिया लोगों के बीच हर किसी से सवाल पूछने का सिलसिला जारी है, आज ही कैप्टेन कोहली की इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने बिना पूरी जानकारी के कुछ भी कहना गलत कहा, वह इस विवाद में उलझना नहीं छह रहे थे.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.