Cricket

WORLD CUP DIARY: 2007 में ऑस्ट्रेलिया ने लगाई थी जीत की हैट्रिक, भारत के क्रिकेट इतिहास में दर्ज हुआ था काला दिन

World Cup Diary: विश्व कप 2019 में हिस्सा लेने वाली लगभग हर टीम इंग्लैंड रवाना हो गई है. भारतीय टीम भी अपना तीसरा ख़िताब जीतने के इरादे से इंग्लैंड पहुंच चुकी है.

इस बार विश्व कप की किसी भी एक टीम को प्रबल दावेदार नहीं बताया जा रहा है. लेकिन अगर आईसीसी के इस टूर्नामेंट की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया की टीम विश्व कप की सबसे मजबूत टीम मानी जाती है.

ऑस्ट्रेलिया एक ऐसी लौती टीम है जिसने 2007 में लगातार तीसरी बार इस ख़िताब को अपने नाम किया था.

ऑस्ट्रेलिया ने लगाई थी जीत ही हैट्रिक

2007 के विश्व कप की बात करें तो कंगारू की टीम उस साल लगातार तीसरी बार विश्व चैंपियन बनी थी. फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया का सामना श्रीलंका से बारबाडोस के मैदान पर हुआ.

यह भी पढ़ें:  Ind vs Pak: पाकिस्तान ने मौका मौका विज्ञापन का दिया घटिया जवाब, विंग कमांडर अभिनंदन का बनाया मजाक

बारिश के कारण ये मुकाबला 38 ओवर का कर दिया गया था. ऑस्ट्रेलिया ने उस मुकाबले में श्रीलंका के सामने 281 रनों का लक्ष्य रखा. जवाब में एक बार फिर बारिश ने मैच में खलल डाला और श्रीलंका को 36 ओवरों में 269 रनों का लक्ष्य मिला.

श्रीलंका की टीम 36 ओवरों में आठ विकेट पर 215 रन ही बना सकी और ऑस्ट्रेलिया को डकवर्थ-लुइस के आधार पर 53 रनों से विश्व चैंपियन घोषित कर दिया गया.

ग्रुप स्टेज से बाहर हो गई थी टीम इंडिया

2007 के वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन बेहद ही निराशाजनक रहा था. यह राहुल और गांगुली का आखिरी विश्व कप था. भारत के ग्रुप में बरमूडा, श्रीलंका और बांग्लादेश थे.

यह भी पढ़ें:  विश्वकप 2019: चैक करें क्रिकेट वर्ल्ड कप का ताजा हाल, पॉइंट्स टेबल, नेट रन रेट etc.

बांग्लादेश और श्रीलंका से हार कर भारत ग्रुप स्टेज के बाद ही बाहर हो गया था. उस समय टीम इंडिया के खिलाफ जमकर प्रदर्शन भी हुआ था.

टीम के वरिष्ठ खिलाड़ियों ने उस समय चैपल के कारण भारतीय क्रिकेट का काला समय घोषित किया था. इस विवाद के बाद चैपल को मजबूरन टीम इंडिया के कोच पद से इस्तेफ़ा देना पड़ा था.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top