World Cup 2019: इन 3 टीमों को माना जा रहा 2019 विश्व कप जीत का प्रबल दावेदार

Umesh
Umesh February 17, 2019
Updated 2019/02/17 at 2:00 PM
India and England

World Cup 2019: क्रिकेट का महायुद्ध शुरू होने में अब कुछ ही समय बचा है. आइये नजर डालते हैं उन तीन टीमों पर जिन्हें इस बार का वर्ल्ड कप जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.

क्रिकेट के महायुद्ध यानी वर्ल्ड कप शुरू होने में अब बस कुछ ही महीने बाकी हैं. सभी टीमें इस समय विश्व कप के हिसाब से ही तैयारी कर रही हैं और अपना प्लान बना रही हैं. विश्व कप 2019 की बात करें, तो कुल 10 टीमें इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगी.

इंग्लैंड की धरती पर किसी भी टीम के लिए जीत इतनी आसान नहीं रहने वाली लेकिन पिछले कुछ मैचों के प्रदर्शन और खिलाड़ियों की हालिया फॉर्म को देखते हुए ये तीन टीमें इस बार वर्ल्ड कप जीतने की प्रबल दावेदार मानी जा रही हैं.

इंग्लैंड

इस बार विश्व कप का आयोजन इंग्लैंड और वेल्स में किया जा रहा है. ऐसे में घरेलू परिस्थितियों इंग्लैंड को फायदा देंगी. 2018 में इंग्लैंड का प्रदर्शन काफी शानदार रहा था.आईसीसी रैंकिंग में भी इंग्लैंड इस समय टॉप पर है.

इस टीम की बात करें, तो सलामी बल्लेबाज़ी में रॉय और हेल्स जैसे आक्रामक बल्लेबाज़ है. इसके बाद मिडिल ऑर्डर में इंग्लैंड के पास रुट और मॉर्गन जैसे अनुभवी बल्लेबाज़ है. सबसे बड़ा हथियार इंग्लैंड के पास जॉस बटलर जैसा खतरनाक बल्लेबाज़ है जो किसी भी समय मैच को पलट सकता है. यही कारण है कि इंग्लैंड को विश्व कप का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.

भारत

भारतीय टीम हर बार विश्व कप की प्रबल दावेदार मानी जाती है, जिसका सबसे बड़ा कारण टीम के खिलाड़ी है. भारतीय टीम के पास सलामी बल्लेबाज के तौर पर विश्व का सबसे खतरनाक ओपनर रोहित शर्मा है. इसके बाद टीम इंडिया के पास कोहली और धोनी जैसे विश्व के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज है.

वहीं दूसरी तरफ भारत का फिनिशिंग से लेकर गेंदबाज़ी अटैक इस समय सबसे खतरनाक है. जिस वजह से ये कहना गलत नहीं होगा की भारत 2019 विश्व कप का खिताब अपने नाम कर सकती है.

न्यूजीलैंड

भारतीय टीम के हाथों वनडे सीरीज में 4-1 से मात खाने के बाद भी कीवी टीम विश्व कप की प्रबल दावेदार है. इस टीम के पास भी अनुभव और आक्रमण की कमी नहीं है.

मुनरो, गप्टिल, विलियमसन, टेलर जैसे बल्लेबाज़ कीवी टीम के पास है. वहीं गेंदबाज़ी में साउथी और बोल्ट से लेकर सेंटनर और सोढ़ी टीम का बड़ा हथियार है. ऐसे में 2019 में न्यूज़ीलैंड बाकि टीमों के लिए बड़ा खतरा बन सकती है

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.