Cricket

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज ने विराट कोहली को बताया वनडे क्रिकेट का ब्रैडमैन, कहा सारे रिकॉर्ड तोड़ देंगे

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज कप्तान इयान चैपल कोहली की बल्लेबाजी के कायल हो गए हैं. चैपल ने कोहली को वनडे क्रिकेट का ब्रैडमैन बताया है.

टीम इंडिया के कप्तान और इस समय वर्ल्ड क्रिकेट के बेस्ट बल्लेबाज विराट कोहली के सामने फिलहाल कोई भी बल्लेबाज टिकता हुआ नहीं दिख रहा है. पिछले 5 सालों में विराट कोहली ने अपने खेल का स्तर इतना बढ़ा दिया है कि उनकी बराबरी करना मौजूदा क्रिकेटर्स के लिए बेहद मुश्किल हो गया है.

विराट ने अपनी बल्लेबाजी से दुनियाभर में करोड़ों फैन्स बना लिए हैं. इन फैन्स में कई पूर्व दिग्गज खिलाडी भी शामिल हैं. विराट की बल्लेबाजी की दुनिया कायल है. पिछले 5 साल में विराट ने वनडे क्रिकेट के कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में कोहली ने अपने वनडे क्रिकेट का 39वां शतक ठोका था. विराट वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक जड़ने वाले सचिन तेंदुलकर से महज 10 शतक पीछे हैं.

यह भी पढ़ें:  IPL 2021: आईपीएल इतिहास में सबसे तेज व धीमे शतक ठोकने वाले खिलाड़ी, जब गेल ने की थी रनों की बारिश

कोहली ने पिछले 5 सालों में क्रिकेट के भगवान और वनडे क्रिकेट के सबसे बड़े खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर के हर रिकॉर्ड को चुनौती दी है. हाल ही में विराट ने वनडे क्रिकेट में 10000 रन पूरे किये. इस मामले में भी उन्होंने सचिन को काफी पीछे छोड़ा दिया. कोहली ने अब तक 219 वनडे मैच खेले हैं. इन 219 वनडे मैचों की 211 पारियों में विराट के बल्ले से 10,385 रन निकले हैं.

विराट को अभी से ही वनडे क्रिकेट का महान खिलाड़ी माना जा रहा है. कई पूर्व दिग्गज क्रिकेटर्स सहित ज्यादातर लोगों का मानना है कि संन्यास लेने से पहले विराट वनडे क्रिकेट का हर बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे. अब इस कड़ी में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज कप्तान इयान चैपल का नाम भी शामिल हो गया है.

यह भी पढ़ें:  RCB vs SRH: आउट होने के बाद आगबबूला हुए विराट ने की IPL संपति को नुकसान पहुंचाने की कोशिश, मिलेगी कड़ी सजा

चैपल के मुताबित विराट कोहली विव रिचर्ड्स, सचिन तेंदुलकर और एबी डिविलियर्स को पीछे छोड़ देंगे और अपने करियर का अंत ‘वनडे क्रिकेट सर डोनाल्ड ब्रैडमैन’ के तौर पर करेंगे.

ईएसपीनक्रिकइन्फो के लिए चैपल ने लिखा, ‘कोहली अपनी वनडे बल्लेबाजी से मुझे विव रिचर्ड्स की याद दिलाते हैं. वो शानदार शॉट लगाते हैं और कई पारंपरिक स्ट्रोक्स पर निर्भर करते हैं. अगर वो मौजूदा रन गति से खेलना जारी रखेंगे, तो तेंदुलकर के कुल शतकों को पार कर लेगा और उनसे 20 शतक आगे रहेगा.’

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top