Cricket

बड़े बल्लेबाज बन चुके है विराट कोहली लेकिन कप्तानी में खुद को साबित करना बाकी

Virat Kohli Best

Virat Kohli Records: विश्व कप 2019 का बिगुल बजने वाला है. इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही सभी टीमों ने अपनी कमर भी कसनी शुरू कर दी है.

हर टीम के पास यूँ तो एक खिलाड़ी ऐसा है जो विश्व कप में उनका ट्रम्प कार्ड साबित हो सकता है लेकिन भारतीय टीम के पास वो हीरा है जिसे अपनी टीम में शामिल करने का सपना हर टीम देख रही है.

ये खिलाड़ी है टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली. विराट कोहली तीसरा विश्व कप खेलने जा रहे है लेकिन बतौर कप्तान उनका ये पहला विश्व कप होगा.

कप्तान के तौर पर कोहली की असली परीक्षा

यह भी पढ़ें:  वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद शिखर धवन ने दिग्गज शायर राहत इंदौरी के शेर लिखकर दी प्रतिक्रिया

बल्लेबाज विराट खुद को पहले ही साबित कर चुके है. उनकी बल्लेबाज़ी के आगे विश्व के दिग्गज गेंदबाज घुटने टेक देते है. कोहली किसी भी समय, कैसी भी पिच पर बल्लेबाज़ी करने में सक्षम है.

लेकिन कोहली के साथ सबसे बड़ी परेशानी ये है कि उन पर बल्लेबाजी के दौरान कप्तानी का दबाव साफ नज़र आता है. इसके अलावा टीम का चयन भी विराट की कप्तानी की विफलता को दर्शाता है. साथ ही विराट के कुछ निर्णय पूरी टीम पर भारी पड़ जाते है.

कप्तानी का हो चुका है खास अनुभव

विराट कोहली टीम इंडिया को हर फॉर्मेट में फ्रंट से लीड कर रहे है. इसके अलावा कोहली आईपीएल में बैंगलोर की कप्तानी भी करते है. ऐसे में कोहली को इस विश्व कप में एक अलग रणनीति के साथ मैदान पर उतरना होगा क्योंकि सब जानते है कोहली अब एक परिपक्व कप्तान और खिलाड़ी बन चुके है.

यह भी पढ़ें:  विश्वकप 2019: भारत-ऑस्ट्रेलिया के मैच में बने ये रिकार्ड्स, टीम इंडिया ने रोका ऑस्ट्रेलिया का विजयरथ

शानदार है वनडे के रिकॉर्ड्स

कोहली की कामयाबी की कहानी उनके आंकड़े खुद बयां करते है. कोहली के वनडे करियर की बात करें तो 227 मुकाबलों की 219 पारियों में कोहली के बल्ले से 10983 रन निकले है.

इस दौरान कोहली का औसत 59.57 का रहा. इसके अलावा उन्होंने 41 शतक और 49 अर्धशतक भी लगाए है. वहीं इंग्लैंड की धरती पर कोहली के बल्ले से 27 मुकाबलों में कुल 873 रन निकले है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top