Cricket

विश्व क्रिकेट 5 सबसे तेज़ गेंदबाज, जिन्होंने डाली क्रिकेट इतिहास की सबसे तेज़ गेंदें

Lee and Akhtar

आज हम क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज गेंदबाजों की बात करने जा रहे हैं. ये वो गेंदबाज हैं, जिनके नाम क्रिकेट इतिहास में सबसे तेज गेंद डालने का रिकॉर्ड है.

पिछले कुछ सालों में क्रिकेट का रंग-रूप काफी बदल गया है. 90 के दशक तक गेंदबाजों की अपनी अलग अहमियत थी. लेकिन टी-20 क्रिकेट के आने से क्रिकेट बल्लेबाजों का गेम बन गया. एक समय था, जब तेज गेंदबाजों का खौफ था. कई गेंदबाज तो ऐसे थे, जिनके आगे बल्लेबाज आना ही नहीं चाहते थे.

आज हम ऐसे गेंदबाजों की बात कर रहे हैं, जिनकी गेंदों से आग निकलती थी. ये वो गेंदबाज हैं, जिन्होनें क्रिकेट इतिहास की सबसे तेज गेंदे डाली.

यह भी पढ़ें:  Shahid Afridi: सचिन तेंदुलकर के खिलाफ बोलने पर लाला शाहिद अफरीदी पर भड़के इंडियन फैंस

शोएब अख्तर (161.3 kmpl)

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के नाम क्रिकेट में सबसे तेज़ गेंद डालने का रिकॉर्ड है. 2003 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ अपने करियर की सबसे तेज गेंद डाली थी. शोएब को रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से भी जाना जाता है. अपनी तेज गेंदबाजी से शोएब कई बल्लेबाजों को घायल कर चुके हैं.

ब्रेट ली (161.1 kmpl)

क्रिकेट के सबसे सफल तेज़ गेंदबाजो की जब भी बात होती है, तो उसमें ब्रेट ली का नाम जरूर आता है. ऑस्ट्रेलिया के इस गेंदबाज़ ने अख्तर के बाद क्रिकेट इतिहास की सबसे तेज गेंद फेंकी थी. ली ने 2005 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 161.1 की रफ़्तार से गेंद डालने का कारनामा किया था.

यह भी पढ़ें:  Batsmen with most sixes: गगनचुंबी छक्के लगाने में भी धोनी टॉप 5 में, दुनिया के महानतम क्रिकेटरों में हैं शामिल

शॉन टेट (161.1 kmpl)

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज शॉन टेट भी अपनी रफ्तार से कई बल्लेबाजों को परेशान कर चुके है. टेट ने इंग्लैंड के खिलाफ 161.1 की रफ्तार से अपने करियर की सबसे तेज गेंद डाली थी. टेट अमूमन 150 kmpl की ज्यादा की स्पीड से गेंदबाजी करते थे.

जेफरी थॉ्म्पसन (160.6 kmpl)

जेफरी के करियर के दौरान गेंद की स्पीड मापने की कोई मशीन नही थी. इसी वजह से उनकी स्पीड को लेकर अकसर विवाद रहता है. 1975 में वेस्टइंडीज के दौरान पर्थ में ऑस्ट्रेलिया के इस गेंदबाज ने 160.6 kmpl की स्पीड से गेंद फेंककर सबको चौंका दिया था.

यह भी पढ़ें:  Batsmen with most sixes: गगनचुंबी छक्के लगाने में भी धोनी टॉप 5 में, दुनिया के महानतम क्रिकेटरों में हैं शामिल

मिचेल स्टार्क (160.4 kmpl)

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज स्टार्क को क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज़ गेंदबाजों में गिना जाता है. 2005 में पर्थ के वाका मैदान पर स्टार्क ने न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ अपने करियर की सबसे तेज गेंद फेंकी.

एंडी रॉबर्ट्स (159.5 kmph)

वेस्टइंडीज के तेज़ गेंदबाज़ रॉबर्ट्स ने 1975 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में अपने करियर की सबसे तेज गेंद फेंकी थी. एंडी का क्रिकेटिंग करियर भी काफी शानदार रहा. उन्होनें 47 टेस्ट मैचों में 202 विकेट अपने नाम किए.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top