India News

Sushil Kumar: कोच की बेटी है सुशील कुमार की पत्नी व जुड़वा बेटों के हैं पिता, 38वां जन्मदिन लेकर आया बुरा मंजर

Sushil Kumar’s life story: कुश्ती की बात करें तो सुशील कुमार जैसे पहलवान बनने में कड़ी मेहनत व सालों का वक्त लग जाया करता है, लीजेंडरी पद्म भूषण कुश्ती कोच व पूर्व मेडलिस्ट सतपाल सिंह उनके गुरु हैं.

26 मई 1983 के जन्मे सुशील कुमार (Sushil Kumar) का यह नाम आज मिट्टी में मिलता नजर आ रहा है. सागर धनखड़ (Sagar Dhankhar) के पिता का कहना है उन्हें यकीन नहीं हो रहा जिसे उनका बेटा गुरु मानता था उसके हाथों बेटे की मौत हो चुकी है.

देश के लीजेंडरी पहलवान हैं सुशील के गुरु

सुशील कुमार के गुरु व ससुर सतपाल सिंह (Satpal Singh) को महाबली सतपाल के नाम से भी जाना जाता है, 65 वर्षीय सतपाल सिंह कई बड़े अवार्ड्स से नवाजे गए हैं, द्रोणाचार्य पुरुस्कार, पद्मश्री व पद्म भूषण जैसे सरीके के सम्मान इसमें शामिल हैं.

आज कहीं न कहीं उनकी छवि भी शिष्य सुशील कुमार की वजह से धूमिल हुई है, जबकि सुशील कुमार की कामयाबी के बाद उन्हें सुशील के गुरु के नाम से जाने जाना लगा था. सतपाल साल 1974, 78 व 82 मन राष्ट्रमंडल खेलों में लगातार रजत विजेता रहे थे, उनके नाम 16 वर्षों तक राष्ट्रीय चैंपियन रहने का भी रिकॉर्ड है, एक ही दिन में 21 कुश्ती जीतने का भी रिकॉर्ड उन्हीं के नाम है.

दक्षिण पश्चिम दिल्ली के बप्रोला गांव में 26 मई 1983 के जन्मे सुशील कुमार एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं, पिता दीवान सिंह एमटीएनएल में ड्राईवर थे, जो अब रिटायर्ड हो चुके हैं. 14 की उम्र में हार्ड ट्रेनिंग कर उन्होंने कुश्ती को अपना पैशन चुन लिया था, और फिर इतनी कामयाबी मिली कि साल 2009 में स्पोर्ट्स के फील्ड में भारत का सबसे बड़ा सम्मान ‘राजीव गांधी खेल रत्न’ से नवाजा गया, 2011 में उन्हें पद्मश्री से नवाजा गया.

गुरु सतपाल सिंह की बेटी सावी से हुई है सुशील की शादी

18 फरवरी 2011 को सुशील कुमार अपने गुरु सतपाल सिंह की बेटी सावी कुमार के साथ परिणय सूत्र में बंधे, 2014 में पत्नी सवी ने दो जुड़वा बेटों को जन्म दिया जिनका नाम सुवर्ण व सुवीर है.

गुरु सतपाल सिंह के साथ सुशील:

सुशील अपने माता-पिता व पत्नी सवी के साथ:

सुशील जुड़वा बेटों के साथ:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top