Cricket

Sneh Rana: उत्तराखंड के छोटे किसान परिवार की बेटी स्नेह राणा ने रचा इतिहास, 5 साल बाद क्रिकेट मैदान पर वापसी

Sneh Rana in Ind W vs Eng W: शैफाली वर्मा के विस्फोटक बल्लेबाजी ने भले ही भारतीय महिला क्रिकेट टीम को मजबूती प्रदान की हो लेकिन अंत में हार को बाहर का रास्ता दिखाने वाली स्नेह राणा ने खूब वाह वाही लूटी, उनके ऑलराउंडर प्रदर्शन ने इंग्लैंड के खिलाफ मैच ड्रा करवा दिया.

मैच में हरफनमौला महिला क्रिकेटर स्नेह राणा (Sneh Rana) ने शानदार परफॉरमेंस के बाद बताया कि इंग्लिश टीम की खिलाड़ियों ने स्लेजिंग की कमी नहीं की थी लेकिन सर पर अगर कुछ अच्छा करने की ललक हो तो लोगों की प्रतिक्रिया बुरी भी हो तो कोई फर्क नहीं पड़ता है.

यह भी पढ़ें:  Ravindra Jadeja: सुरेशा रैना के सपोर्ट में उतरे जडेजा पोस्ट में लिखा 'राजपूत ब्वॉय फॉरएवर'

27 वर्षीय क्रिकेटर स्नेह राणा यूं तो साल 2014 में ही डेब्यू कर चुकी थी लेकिन खराब प्रदर्शन व घुटने की चोट के चलते उन्हें बाहर का रास्ता देखना पड़ा था. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के सिनौला नाम के गांव की स्नेह राणा एक किसान परिवार से ताल्लुक रखती हैं. क्रिकेट जैसे लोकप्रिय खेल में अपना मुकाम बनाना आसान नहीं होता है.

5 साल पहले जब उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखाया गया था तो शायद ही सोचा होगा कि वापसी में इतना वक्त लग जाएगा, देर हुई लेकिन पहले ही मैच में जो ऑलराउंडर पारी खेली वो काबिल-ए-तारीफ रही.

यह भी पढ़ें:  Raj Kundra Case: क्रिकेटर अजिंक्य रहाणे का राज कुंद्रा केस से क्या है कनेक्शन, फैंस ने पूछे तीखे सवाल

इंग्लैंड की पारी 396 रनों के साथ घोषित हुई हालांकि 1 विकेट शेष था, 9 बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाने में सबसे अहम योगदान स्नेह राणा का रहा, उन्होंने 39.2 ओवर के स्पेल में 131 रन खर्च कर 4 विकेट चटके, फिर दीप्ति शर्मा ने 3 व झूलन गोस्वामी, पूजा वस्त्रकार ने 1-1 विकेट चटका.

231 रनों पर निपटी भारतीय टीम को दोबारा मैदान पर उतारा गया तो हालात हारने जैसे बन गए थे लेकिन स्नेह राणा (80*) रनों की नाबाद पारी के साथ मैच ही ड्रा करा दिया, इसमें तानिया भाटिया (44*) ने उनका साथ दिया.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top