Cricket

IPL 2019: जिस खिलाड़ी ने तोड़ा था 2012 के फाइनल का सपना, धोनी ने किया उसे टीम में शामिल

IPL 2019: 6 साल बाद दिल्ली के लिए फिर लौटी वही कहानी, जिस खिलाड़ी ने तोड़ा था 2012 के फाइनल का सपना, धोनी ने किया उसे टीम में शामिल

दिल्ली की टीम के लिए इस बार का आईपीएल का सीजन काफी शानदार रहा है. कई मौको पर इस टीम ने अपने जोश से ऐसी टीमों को मात दी है जिसे हरा पाना बाकी टीमों के लिए इतना आसान नहीं रहा.

दिल्ली की टीम आईपीएल के 12वें सीजन के फाइनल में पहुंचने से सिर्फ एक कदम दूर है. जिस तरह की फॉर्म में दिल्ली के खिलाड़ी है उसे देखकर ऐसा ही लगता है कि दिल्ली पहली बार आईपीएल का फाइनल खेलने वाली है.

लेकिन इस टीम के सामने एक ऐसी टीम की चुनौती है जिसे इस लीग के फाइनल खेलने की आदत है. दिल्ली का मुकाबला चेन्नई की टीम से होगा जिसने लीग स्टेज के दोनों मैचों में दिल्ली की टीम को हराया था.

यह भी पढ़ें:  विश्व कप 2019: सचिन तेंदुलकर ने बताया भारतीय बल्लेबाजी क्रम, धोनी को दिया ये स्थान

इसके अलावा इस टीम के साथ दिल्ली की एक ऐसी कहानी भी जुड़ी है जो आज के मुकाबले में भी इस टीम को परेशान करेगी.

दरअसल साल 2012 के आइपीएल सीजन में दिल्ली को क्वालीफायर 2 में चेन्नई से भिड़ना पड़ा था और उसका फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया था. दिल्ली का सपना किसी और खिलाड़ी ने नहीं बल्की चेन्नई के बल्लेबाज मुरली विजय ने तोड़ा था.

उस मुकाबले में विजय ने शतकीय पारी खेली थी. धोनी ने विजय को पिछले 3 मुकाबलों में मौका देकर आज के मुकाबले के लिए तैयार भी कर लिया है.

दिल्ली के लिए सबसे बड़े विलेन बने थे मुरली विजय

यह भी पढ़ें:  ICC World Cup 2019: इंग्लैंड पहुंची टीम इंडिया, 5 जून को खेलेगी टूर्नामेंट का पहला मुकाबला

2012 के आईपीएल में दिल्ली की टीम पहली बार आईपीएल का फाइनल खेलने के इरादे से मैदान पर उतरी थी. उस समय भी दिल्ली की टीम जोश से भरपूर थी. वो मुकाबला चेन्नई के होम ग्राउंड पर खेला गया था.

उस मुकाबले में मुरली विजय में सिर्फ 58 गेंदों पर 113 रन की बेहतरीन पारी खेलकर अपनी टीम के स्कोर को 222 तक पहुंचा दिया था. जिसके बाद दिल्ली को ये मुकाबला 86 रनों के बड़े अंतर से हारना पड़ा था.

6 साल बाद फिर लौट चुकी है वही कहानी

6 साल अब फिर एक बार आईपीएल की वही कहानी लौट चुकी है. दिल्ली की टीम क्वालीफायर 2 चेन्नई के खिलाफ ही खेलने वाली है. हालांकि मैदान अलग है लेकिन दिल्ली के जख्मों को फिर से ताजा करने के लिए धोनी ने मुरली विजय को पहले से ही तैयार कर लिया है.

यह भी पढ़ें:  विराट बने सोशल मीडिया के किंग, ऐसा करने वाले बने दुनिया के पहले क्रिकेटर

आज के मुकाबले में धोनी विजय से पारी का आगाज भी करा सकते है. वैसे भी धोनी किसी भी बड़े खिलाड़ी के चोटिल होने के बाद टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी को ही मौका देते है. अब देखना होगा कि दिल्ली की टीम विजय के खिलाफ किस रणनीति के साथ मैदान पर उतरती है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top