मिताली राज का 36वां जन्मदिन, जानें उन्हें क्यों कहा जाता है लेडी तेंदुलकर

Umesh
Umesh December 4, 2018
Updated 2018/12/04 at 1:35 PM
sachin and mithali

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने कल अपना 36वां जन्मदिन मनाया. भारतीय महिला क्रिकेट को आगे ले जाने में मिताली का बड़ा हाथ है. उनके जन्मदिन के मौके पर आपको उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें बताते हैं.

क्रिकेट से प्यार करने वाले लोगों ने सचिन तेंदुलकर का नाम तो सुना ही होगा. सचिन को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है. भारतीय क्रिकेट को सचिन ने एक अलग पहचान दिलाई है. सचिन भले ही अब फील्ड पर नजर ना आते हो लेकिन उन्ही की तरह एक ऐसी क्रिकेटर है, जिसे लोग लेडी तेंदुलकर के नाम से भी जानते है.

हम बात कर रहे है महिला क्रिकेट की सबसे दिग्गज खिलाड़ी और वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज की. मिताली ने 3 दिसंबर को अपना 36वां जन्मदिन मनाया. इस लंबे करियर में मिताली ने बतौर क्रिकेटर हर वो चीज़ हासिल कर ली है, जो एक क्रिकेटर का सपना होता है.

10 साल की उम्र में ही चुन लिया था क्रिकेट

10 साल की उम्र में मिताली ने क्रिकेट खेलना शुरू किया और 7 साल बाद वह भारतीय टीम का हिस्सा थी. मिताली ने 1999 में आयरलैंड के खिलाफ अपने पहले ही वनडे मैच में शतक जड़ दिया था. आयरलैंड के खिलाफ मिताली ने 114 रनों की नाबाद पारी खेली थी. यही से मिताली के कामयाब क्रिकेट करियर की शुरुआत हुई थी.

इंग्लैंड के खिलाफ किया था टेस्ट डेब्यू

मिताली ने साल 2002 में टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू किया था. तीसरे ही टेस्ट में 407 गेंदों में 19 चौके की मदद से 214 रन की शानदारी पारी खेलकर विश्व रिकॉर्ड दर्ज किया था. इस मामले में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की कैरन रोल्टन के 209 रनों का रिकॉर्ड तोड़ा था. मिताली की इस पारी की तारीफ हर बड़े और दिग्गज क्रिकेटर ने की थी.

इस वजह से मिताली को कहते है लेडी तेंदुलकर

मिताली ने अपने करियर में 197 वनडे मैच खेले है. इसमें उन्होंने 51 की औसत, 7 शतक और 51 अर्धशतकों की मदद से 6650 रन बनाए है. इसके अलावा उन्होंने 10 टेस्ट मैचों में 51 की औसत से 1 शतक और 4 अर्धशतकों के साथ कुल 663 रन बनाए है. मिताली वनडे क्रिकेट में 5000 से ज़्यादा रन बनाने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं. उनके शानदार रिकार्ड्स की वजह से ही उन्हें कई बार लेडी सचिन तेंदुलकर भी कहा जाता है.

टी-20 क्रिकेट में कोहली और रोहित शर्मा से भी आगे

वनडे और टेस्ट के अलावा मिताली टी-20 फॉर्मेट की भी शानदार प्लेयर हैं. 85 इंटरनेशनल टी-20 मैचों में मिताली ने 37 की औसत से 2283 रन बनाए हैं. टी-20 रनों के मामले में  भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम के दिग्गज विराट कोहली और रोहित शर्मा भी उनसे पीछे हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.