धोनी और गांगुली को पीछे छोड़ कोहली बन सकते हैं सबसे सफल भारतीय टेस्ट कप्तान

Umesh
Umesh December 13, 2018
Updated 2018/12/13 at 12:57 PM

एक शानदार बल्लेबाज के साथ-साथ कोहली एक जबरदस्त कप्तान बनकर भी उभरे हैं. इस बात की गंवाई उनके रिकार्ड्स दे रहे हैं. टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल कप्तान बनने से कोहली अब बस चंद जीतों की दूरी पर हैं.

विराट कोहली इस समय वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे शानदार बल्लेबाज हैं. एक शानदार बल्लेबाज होने के साथ-साथ कोहली अब एक सुलझे हुए और सफल कप्तान के दौर पर भी देखे जा रहे हैं. अपना शानदार कप्तानी का नमूना कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट में दिया था.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट को जीतकर कोहली ने 10 साल बाद भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को ऑस्ट्रेलिया की धरती पर जीत का तोहफा दिया था. इस जीत ने ये साबित किया कि कोहली एक अच्छे कप्तान हैं. उनके रिकार्ड्स गंवाई दे रहे हैं कि आने वाले दिनों में वह भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल कप्तान बन जाएँगे.

धोनी से आगे निकल सकते है कोहली

कोहली की अगुवाई में भारत ने अब तक 43 टेस्ट मैच खेले है, जिनमें से 25 में उसने जीत दर्ज की है. बाकी मैचों में से नौ में भारत को हार मिली, जबकि 9 मैच ड्रा रहे.

वहीं धोनी की बात करें, तो उनके नाम 60 मैचों 27 जीत दर्ज है. इसी वजह से धोनी इस समय भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान माने जाते है. कोहली अब धोनी मात्र 2 जीत की दूरी पर हैं. अगर भारत अगले तीन मैचों में से 2 जीतता है, तो कोहली टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल कप्तान बन जाएंगे.

कोहली के पास गांगुली और बेदी के रिकॉर्ड तोड़ने का मौका

कोहली विदेश में सबसे अधिक मैच जीतने वाले भारतीय कप्तान बन सकते है. अभी यह रिकार्ड सौरव गांगुली के नाम पर है, जिनकी कप्तानी में भारत ने विदेशी धरती पर सर्वाधिक 11 टेस्ट मैच जीते है. कोहली अब तक विदेशी धरती पर भारत को 10 मैच जीता चुके है. अगला मैच जीतते ही कोहली ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे.

इसके अलावा कोहली बिशन सिंह बेदी का रिकॉर्ड भी तोड़ सकते है. बिशन सिंह बेदी ऑस्ट्रेलिया की धरती पर 2 टेस्ट मैच जीतने वाले इकलौते कप्तान है. कोहली अगर इस सीरीज में एक भी मैच जीते तो बेदी की बराबरी कर लेंगे.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.