वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार नर्वस 90 का शिकार हो चुके है ये 5 भारतीय खिलाड़ी

Umesh
Umesh November 13, 2018
Updated 2018/11/13 at 10:34 PM
Sachin Tendulkar and Virat Kohli

अगर आप क्रिकेट प्रेमी है तो आपने नर्वस 90 का नाम कई बार सुना होगा. कहने को यह महज एक शब्द है लेकिन कोई भी खिलाड़ी इसका नाम तक नहीं लेना चाहता. बता दें कि नवर्स 90 उस स्थिति को कहते है, जब एक खिलाड़ी शतक बनाने से चूक जाता है और 90 से 100 के स्कोर के बीच में ही आउट हो जाता है. आज हम आपको भारतीय क्रिकेट के 5 बल्लेबाजों के बारे में बताने जा रहे है, जो वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार नर्वस 90 का शिकार हो चुके है.

सचिन तेंदुलकर

सभी जानते है कि सचिन तेंदुलकर के नाम ये रिकॉर्ड दर्ज है. सचिन को 90 से 100 के बीच में स्कोर के बीच आउट होते कई बार देखा गया है. सचिन ने अपने करियर में 463 वनडे खेले है. जिसमें उनके नाम 49 शतक है, लेकिन वो इस दौरान 17 बार नर्वस 90 का शिकार हुए थे.

सौरव गांगुली

गांगुली को वनडे क्रिकेट का खतरनाक लेफ्ट हैण्ड बेट्समन माना जाता था. गांगुली ने भारत के लिए कई बड़ी पारियां खेली लेकिन नर्वस 90 में शिकार होने के मामले में भी गांगुली दूसरे स्थान पर है. गांगुली ने अपने करियर में 311 एकदिवसीय मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 22 शतक ठोके.  गांगुली 6 बार 90 से 99 के स्कोर के बीच आउट हुए थे.

विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली इस सूची में तीसरे स्थान पर काबिज है. कप्तान कोहली अब तक 5 बार नर्वस  का शिकार हो चुके है. हालांकि कोहली अब तक वनडे क्रिकेट में 38 शतक भी लगा चुके है.

वीरेंद्र सहवाग

वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में शामिल रहे सहवाग ने वनडे क्रिकेट में 245 पारियां खेली. सहवाग कभी रिकार्ड्स के लिए नहीं खेले. 99 के स्कोर पर भी सहवाग छक्का मारकर सेंचुरी पूरी करते थे. इन 245 पारियों में सहवाग 5 बार नर्वस 90 का शिकार हुए.

मोहम्मद अजहरूद्दीन

भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन ने कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए थे. 334 वनडे मैचों में 9000 से ज्यादा रन बनाने वाले अजहर ने केवल 7 सेंचुरी लगाईं थीं. आपको बता दें कि अजहर इस दौरान 4 बार नर्वस 90 के फेर में फंसे थे.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.