Cricket

India Vs NZ 3rd T20: तीसरे टी-20 मुकाबले में 4 रनों से हारा भारत, ये हैं हार के 3 मुख्य कारण

India vs NZ third T20

India Vs NZ 3rd T20: भारत और न्यूज़ीलैण्ड के बीच टी-20 सीरीज का आखिरी मैच मेजबान टीम ने 4 रन से जीत लिया है. इसी के साथ न्यूज़ीलैण्ड ने ये सीरीज 2-1 से जीत ली है.

हैमिल्टन के मैदान पर खेला गया तीन टी-20 मैचों का आखिरी टी-20 मुकाबला न्यूजीलैंड की टीम ने 4 रनों से जीत लिया. इसी के साथ कीवी टीम ने ये श्रृंखला 2-1 से अपने नाम कर ली है. टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का रोहित का फैसला एक बार फिर गलत साबित हुआ. पहले बल्लेबाजी करने मैदन पर उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने भारत को निर्धारित 20 ओवरों में 213 रनों का लक्ष्य दिया. जवाब में भारतीय टीम 20 ओवरों में 208 रन ही बना सकी.

यह भी पढ़ें:  विश्व कप 2019: 23 साल बाद बड़ा बदलाव, दिलचस्प हो जाएगी इस खिताब की जंग

इतिहास रचने से चूका भारत

तीसरे टी-20 मुकाबले को जीतकर भारत के पास पहली बार न्यूजीलैंड की धरती पर टी-20 सीरीज जीतने का मौका था. लेकिन टीम इंडिया इतिहास रचने से 4 रन दूर रह गई. इसके अलावा भारत के पास लगातार 11 टी-20 सीरीज जीतकर पाकिस्तान के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करने का भी शानदार मौका था.

बल्लेबाजों ने भरपूर कोशिश की

तीसरे टी-20 मुकाबले में टीम इंडिया के बल्लबाज़ों ने एक तरह से कैमियो निभाया. धवन का विकेट गिरने के बाद रोहित शर्मा एक छोर पर टिके रहे तो वहीं उनके सामने दूसरी तरफ से हिटिंग जारी रही.

भारतीय बल्लेबाजों की बात करें तो विजय शंकर के बल्ले से 28 गेंदों में 43, पंत के बल्ले से 11 गेंदों में 28, और पंड्या के बल्ले से 11 गेंदों में 21 रन निकले. इसके बाद कार्तिक ने 16 गेंदों में 33 और क्रुणाल 13 गेंदों में 26 रन बनाकर टीम को जीत दिलाने की पूरी कोशिश की.

यह भी पढ़ें:  WORLD CUP 2019: विश्व कप में इस बार विपक्षी टीम का खेल बिगाड़ सकते है वेस्ट इंडीज के ये 4 खिलाड़ी

ये रहे हार के तीन बड़े कारण

सिडन पार्क के छोटे मैदान पर भारतीय टीम के लिए जरुरी था कि कीवी टीम को 200 के अंदर समेटा जाए लेकिन एक बार फिर भारतीय गेंदबाजों ने जमकर रन लुटाए. कुलदीप को छोड़ भारत का हर गेंदबाज महंगा साबित हुआ.

खलील ने अपने 4 ओवरों की गेंदबाज़ी 47, हार्दिक पंड्या ने 44, क्रुणाल ने 54 और भुवनेश्वर कुमार ने 37 रन दिए. अगर टीम इंडिया रनों पर अंकुश लगा पाने में कामयाब हो जाती तो मैच का परिणाम कुछ और हो सकता था.

बेजान गेंदबाजी के अलावा कहीं न कहीं घटिया फील्डिंग की वजह से न्यूज़ीलैण्ड का स्कोर 200 के पार पहुंचा. भारत की तरफ से कई कैच छूटे जिसकी न्यूज़ीलैण्ड के बल्लेबाजों का मनोबल उंचा रहा.

यह भी पढ़ें:  WORLD CUP DIARY: 2007 में ऑस्ट्रेलिया ने लगाई थी जीत की हैट्रिक, भारत के क्रिकेट इतिहास में दर्ज हुआ था काला दिन

इसके अलावा टॉस जीतकर रोहित का पहले गेंदबाजी करने का फैसला एक बार फिर भारत की हार का कारण बना. एक्सपर्ट्स की मानें तो इस बैटिंग पिच पर पहले बल्लेबाजी करना ही बेहतर विकल्प था.

मैच का स्कोर कार्ड
न्यूज़ीलैंड: 212-4 (20)
मुनरो: 72, शेफर्ट:43
कुलदीप: 26/2

भारत: 208-6 (20)
शंकर:43, रोहित: 38
सेंटनर: 32/2, मिचेल:27/2

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top