Cricket

Ind vs SA: 1 पारी और 137 रनों से जीती टीम इंडिया, फिर धराशाई हुई दक्षिण अफ्रीका

Ind vs SA: टीम इंडिया (India) के विशाल स्कोर के सामने लगातार दूसरी बार ध्वस्त हुआ साउथ अफ्रीका (South Africa) का टॉप आर्डर.

साउथ अफ्रीका और इंडिया के बीच दूसरा टेस्ट मैच 10 अक्टूबर से महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम, पुणे में शुरू हुआ. भारतीय क्रिकेट टीम कैप्टेन विराट कोहली ने फिर से टॉस जीतकर बैटिंग करने का फैसला लिया, लय पहले टेस्ट की तरह बरकरार रखी.

भले पहले टेस्ट मैच के शतकवीर रोहित शर्मा (14) जल्दी आउट हो गए लेकिन ओपनर मयंक अग्रवाल ने 195 गेंदों का सामना कर 108 रनों को योगदान दिया। पुजारा ने भी 58 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया, लेकिन बारी थी कप्तान की विशाल पारी की.

यह भी पढ़ें:  Ind vs Aus: वार्नर-फिंच की तूफानी पारियों ने भारत पर दर्ज करवाई ऐतिहासिक जीत, भारतीय गेंदबाज हुए फेल

विराट (254 नाबाद) ने रहाणे (59) और जडेजा (91) के साथ मिलकर 601 स्कोरबोर्ड पर टांग दिए और साउथ अफ्रीका को जडेजा के आउट होते ही खेलने के लिए आमंत्रित कर दिया. भारतीय गेंदबाजों ने एक बार फिर साउथ अफ्रीका के टॉप आर्डर को लड़खड़ाकर रख दिया. 11 अक्टूबर को 33 रनों पर साउथ अफ्रीका ने 3 विकेट गवा डाले.

विराट कोहली, मयंक अग्रवाल, पुजारा, रहाणे और जडेजा की शानदार पारयों के बाद उमेश यादव और मोहम्मद शमी की घातक गेंदबाजी साउथ अफ्रीका के लिए सिर दर्द बन गयी है, डीन एल्गर (6), एडाप्टेन मार्कराम (0) को उमेश यादव ने कल ही सस्ते में आउट कर दिया था जबकि शमी भी कहां शांत रहते उन्होंने तेम्बा बावुमा (8) चलता कर दिया.

यह भी पढ़ें:  Kanpur Gang-rape: आरोपियों ने नाबालिग पीड़िता की माँ को बेरहमी से मार डाला, CCTV में कैद हुआ क्राइम

12 अक्टूबर की शुरुवात भी उमेश-शमी की जोड़ी ने विकेट के साथ की. एनरिच नॉर्टजे (3) को शमी ने तो यूनिस डे ब्रुइन (30) को उमेश ने पवेलियन पहुंचा दिया. क्विंटन डी कॉक (31) तेजी से रन बना ही रहे थे कि आश्विन ने उन्हें आते ही चलता किया.

सेनुरन मुथुसामी (7), वर्नोन फिलेंडर (नाबाद 44), केशव महाराज (72), कगिसो रबाडा (2) स्कोर को 275 तक पहुंचाने में सफल रहे. भारत के विशाल स्कोर (601) के सामने, साउथ अफ्रीका के बैट्समैन दूसरी बार मैदान पर उतरे तो हाल और बुरा हुआ और मात्र 189 रनों के स्कोर पर ढेर हो गयी.

यह भी पढ़ें:  Nirbhaya Case: राष्ट्रपति ने खारिज की दया याचिका, फिर भी पोस्टपोंड हो सकती है फांसी की तारीख

डीन एल्गर (48), तेम्बा बावुमा (38), वर्नोन फिलेंडर (37), केशव महाराज (22) के अलावा कोई भी दहाई का आकड़ा छूने में कामयाब नहीं रह पाया. दोनों परियों को मिलाकर भारत तरफ से आश्विन और उमेश यादव 6-6 विकेट लेकर टॉप पर रहे.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top