Cricket

ICC World Cup 2019 Venue: इंग्लैंड के इन 11 मैदानों पर होगी वर्ल्ड कप 2019 की जंग

ICC World Cup 2019 Venue: वर्ल्ड कप 2019 का आग़ाज़ होने को है. इस साल वर्ल्ड कप का आयोजन इंग्लैंड और वेल्स में होगा. आइये एक नजर डालते हैं उन स्टेडियम्स पर जहां इस साल वर्ल्ड कप के मुकाबले होंगे.

क्रिकेट के सबसे बड़े महायुद्ध यानी वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत बस कुछ ही महीनों बाद होने वाली है. किसी भी टीम के पास अब इस टूर्नामेंट के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है.

इसी वजह से हर किसी ने अभी से अपनी कमर कसनी शुरु कर दी है. वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत 30 मई 2019 से होगी जिसमें विश्व क्रिकेट की सबसे बेहतरीन 10 टीमें हिस्सा लेने वाली है.

इस बार के वर्ल्ड कप की मेजबानी इंग्लैड की टीम करेगी जिसे इस बार इस टूर्नामेंट का प्रबल दावेदार भी माना जा रहा है. वर्ल्ड कप के सभी मुकाबले इंग्लैंड के अलग-अलग शहरों के कुल 11 स्टेडियमों में खेले जाएंगे.

आईए नजर डालते है इंग्लैंड के उन स्टेडियम्स पर जहां क्रिकेट के इस महामुकाबले का गवाह पूरा विश्व बनेगा.

लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड- लंदन

लंदन का सबसे लोकप्रिय मैदान लॉर्ड्स स्टेडियम पहले भी कई यादगार मैचों के लिए जाना जाता है. इस एतिहासिक स्टेडियम में वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मुकाबला भी खेला जाएगा.

लॉर्ड्स स्टेडियम की क्षमता करीब 28,000 दर्शकों की है. जो इंग्लैंड का सबसे बड़ा स्टेडियम भी है.

यह भी पढ़ें:  IPL 2019: मुंबई ने चौथी बार जीता आईपीएल का फाइनल, कुछ ऐसा था आखिरी ओवर का रोमांच

दी ओवल- लंदन

लॉर्ड्स के बाद इस मैदान को इंग्लैंड का सबसे खूबसूरत मैदान माना जाता है. वर्ल्ड कप 2019 का पहला मैच भी इसी मैदान पर साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच खेला जाएगा.

वहीं अभी तक 21,500 दर्शकों की क्षमता वाले इस मैदान पर 101 मैच खेले जा चुके है.

एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड- बर्मिंघम

इंग्लैंड के इस मैदान पर पहला मैच साल 1882 में खाला गया था. बर्मिंघम में स्थित वार्विकशायर काउंटी टीम का ये मैदान 25,000 दर्शकों की क्षमता रखता है.

इसी वजह से इस खूबसूरत मैदान पर वर्ल्ड कप का दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला भी खेला जाएगा.

ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट ग्राउंड- मैनचेस्टर

इस मैदान पर भारत अपना मुकाबला पाकिस्तान के साथ खेलेगी. इंग्लैड के इस मैदान को तीसरा सबसे ज्यादा दर्शकों की क्षमता वाला मैदान माना जाता है. 20,000 दर्शकों की क्षमता वाले इस मैदान पर पहला सेमिफाइनल मुकाबला भी खेला जाएगा. वहीं अभी तक इस मैदान पर 78 मुकाबले खेले जा चुके है.

काउंटी क्रिकेट ग्राउंड- ब्रिस्टल

इंग्लैड के इस ग्राउंड पर पहला मैच 1889 में खेला गया था. इस मैदान पर एक बार में 7000 दर्शक टेस्ट मैच का लुफ्त उठा सकते है लेकिन वनडे मैचों के लिए इस मैदान की क्षमता को 15000 दर्शकों के लिए बढ़ा दिया जाता है.

यह भी पढ़ें:  ODI में 40 से ऊपर की औसत व 100 के स्ट्राइक के साथ बल्लेबाजी, विश्व कप में इन 5 खिलाड़ियों पर होगी नजर

ब्रिस्टल का ये मैदान काफी तेज पिच के लिए भी जाना जाता है.

ट्रेंट ब्रिज-नॉटिंघम

इस मैदान पर एक बार में 15000 से 17000 दर्शक एक मैच को आराम से देख सकते है. इंग्लैंड का ये मैदान नॉटिंघमशायर टीम का होम ग्राउंड है.

इंग्लैंड का ये मैदान भारत के लिए हमेशा से ही एक बुरे सपने की तरह साबित हुआ है. जहां भारत अपने कई मुकाबले हारा है.

सोफिया गार्डन- कार्डिफ

कार्डिफ के इस मैदान पर वर्ल्ड कप का पहला मैच खेला जाएगा. इसी के साथ 5 मई को इंग्लैंड और पाकिस्तान के मैच के साथ ही ये मैदान भी इंग्लैंड क्रिकेट के इतिहास का हिस्सा बन जाएगा.

बता दें कि इस मैदान पर भी 15,000 दर्शक एक मैच को देख सकते है.

रोज बॉल क्रिकेट ग्राउंड- साउथेम्पटन

इंग्लैंड के साउथेम्पथन का ये मौदान भले ही 2001 में बन कर तैयार हुआ हो लेकिन 20,000 दर्शकों की क्षमता वाले इस मैदान पर कई रोमांचक मुकाबले देखने को मिले है.

इस मैदान पर वर्ल्ड कप का पहला मैच साउथ अफ्रीका और भारत के बीच 5 मई को खेला जाएगा. बता दें कि अभी तक इस, मैदान पर केवल 3 ही मुकाबले खेले गए है.

यह भी पढ़ें:  बड़े बल्लेबाज बन चुके है विराट कोहली लेकिन कप्तानी में खुद को साबित करना बाकी

दी काउंटी क्रिकेट ग्राउंड- टाउंटन

भले ही टाउंटन का ये मैदान 6,500 दर्शकों की क्षमता रखता हो लेकिन इस मैदान को इंग्लैंड की परिस्थितियों के काफी अनुकूल माना जाता है.

इस मैदान पर पहला मुकाबला साल 1882 में खेला गया था वहीं इस मैदान पर वर्ल्ड कप 2019 का पहला मुकाबला न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान के बीच खेला जाएगा.

हेडिंग्ले- लीड्स

लंदन के बाद लीड्स को इंग्लैंड का सबसे खूबसूरत शहर माना जाता है. उसी शहर के बीच में लीड्स का क्रिकेट ग्राउंड है जो लॉर्ड्स की तरह ही कई एतिहासिक मैचों का गवाह बन चुका है.

इस मैदान पर अभी तक कुल 77 मैच खेले जा चुके है. वहीं 17,000 तक की क्षमता वाले इस मैदान पर वर्ल्ड कप का पहला मैच इंग्लैड और श्रीलंका के बीच खेला जाएगा.

रिवरसाइड ग्राउंड- चेस्टर ली स्ट्रीट

साल 1995 में इस मैदान पर पहला मैच खेल गया था. जब इस मैदान पर पहले मैच की शुरुआत हुई थी तो उस समय केवल 5,000 दर्शक ही इस मैदान पर एक बार में मैच देख पाते थे लेकिन इसके बाद अब इसकी क्षमता को बढ़ा कर 17000 तक कर दिया गया है.

इस मैदान पर अभी तक कुल 6 मैच ही हुए है जिसमें 4 मैच पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top