Hanuma Vihari: जब हनुमा विहारी से उनके कोच ने कहा, मुझे अपने 3 साल दे दो, तुम इंडिया के लिए खेल जाओगे

Umesh
Umesh September 10, 2018
Updated 2018/09/10 at 2:00 PM
Hanuma Vihari

इंग्लैंड के खिलाफ 5वें टेस्ट से पहले हार्दिक पंड्या के टीम से बाहर होने के बाद हर किसी के मन में यही सवाल था कि उनकी जगह टीम में शामिल किए गए ऑलराउंडर हनुमा विहारी किस तरह का प्रदर्शन करेंगे. जब विहारी का नाम पंड्या की जगह प्लेइंग 11 में आया, तो लगभग सभी ने इसकी आलोचना की थी. लेकिन विहारी के अपनी पहली पारी में ही पचासा लगाकर सबका मुंह बंद कर दिया.

विहारी ने घरेलू क्रिकेट में पिछले कुछ सालों में जिस तरह का प्रदर्शन किया था, ठीक उसी तरह का प्रदर्शन उन्होंने 5वें टेस्ट की पहली पारी में भी किया. अपने डेब्यू मैच की शुरुआत ही अर्धशतक से करने वाले विहारी ने गांगुली और द्रविड़ के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. अब विहारी की चर्चा हर तरफ हो रही है. लेकिन आप लोगों को जानकर हैरानी होगी की एक समय विहारी ने क्रिकेट छोड़ने तक का फैसला कर लिया था.

ये भी पढ़े: पांचवे टेस्ट में भारत की हालत गंभीर, इंग्लैंड जीत की दहलीज पर

विहारी ने जब क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया, तो उनके कोच ने उन्हें संभाला और उनसे तीन साल मांगे. 3 साल से पहले ही विहारी से अपने किए वादे को पूरा भी किया. दरअसल आज से दो साल पहले 2016 में विहारी काफी परेशान रहते थे. एक दिन विहारी के कोच सनथ कुमार ने उन्हें अपने कमरे में बुलाया और परेशान रहने की वजह पूछी. इसके बाद विहारी ने कहा कि ‘मैं पूरी बात डिटेल में नहीं बता सकता लेकिन इतना कह सकता हूँ कि मेरा अनुभव बढ़िया नहीं रहा.’

इसके बाद सनथ ने विहारी से उनके 3 साल मांगे क्योंकि वो अच्छी तरह जानते थे की विहारी एक दिन इंडिया के लिए जरूर खेलेंगे. सनथ ने अपना वादा तीन साल के अंदर ही पूरा किया और विहारी तो इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिल गया.

हाल ही विहारी के डेब्यू के बाद कोच सनथ ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘जामवंत को भी हनुमान जी को उनकी ताकत याद दिलानी पड़ी थी. मुझे याद है कि जब मैंने उसे समझाया था, तो वो काफी खुश था. मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि जिस तरह उसने अपने खेल की तरफ अपना ध्यान केंदित किया वो कोई दूसरा खिलाड़ी नहीं कर पता. मैं लगातार उससे बात करता रहूँगा.’

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.