Cricket

गौतम गंभीर ने छोड़ी दिल्ली की कप्तानी, जानिए क्यों लिया इतना बड़ा फैसला?

Gautam Gambhir

भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल ओपनर्स में से एक गौतम गंभीर इस समय भारतीय टीम में अपनी जगह बनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे है. पिछले कई सालों से टीम से बाहर गंभीर ने अब 37 साल के हो गए हैं लेकिन उन्होंने वापसी की उम्मीद नहीं छोड़ी है.

गौतम जितनी बेबाकी से बल्लेबाजी करते है उतनी ही बेबाकी से वह अपने फैसले भी लेते है और अपनी राय भी रखते हैं. गौतम ने एक बार फिर ऐसा फैसला लिया है, जिसने सभी को हैरान कर दिया है.

दरअसल गौतम गंभीर ने रणजी ट्रॉफी के बीच ही दिल्ली की कप्तानी छोड़ दी है. गंभीर के इस फैसले से दिल्ली की पूरी टीम काफी हैरान है. उनकी जगह नीतीश राणा को दिल्ली का नया कप्तान बनाया गया है.

यह भी पढ़ें:  वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में ये 3 रिकॉर्ड तोड़कर रोहित बन सकते हैं इस फॉर्मेट के सबसे बड़े खिलाड़ी

गंभीर ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. ट्वीट करते हुए उन्होंने बताया कि उनके इस फैसले के पीछे का कारण युवाओं को ज्यादा मौका देना था. इसी वजह से बिना सोचे समझे उन्होंने दिल्ली की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है.

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘अब समय आ गया है कि युवा खिलाड़ियों को ये जिम्मेदारी सौंप दी जाए. इसलिए मैं दिल्ली डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन से आग्रह करता हूं कि वे इस रोल के लिए मेरा चयन ना करें. मैं पीछे रहकर नए कप्तान का मार्गदर्शन करुंगा.’

बता दें कि पिछले सीजन टीम की कप्तानी करने वाले ऋषभ पंत और इशांत शर्मा अपने अंतर्राष्ट्रीय शेड्यूल के कारण उपलब्ध नहीं थे और इसलिए गंभीर को कप्तानी सौंपी गई थी.

यह भी पढ़ें:  वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरा टी-20 मैच आज, इन खिलाड़ियों से रहना होगा भारत को सावधान

गौतम गंभीर ने हाल ही में अपनी कप्तानी में दिल्ली को विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल तक पहुंचाया था. इसके अलावा बतौर कप्तान भी उनका प्रदर्शन काफी शानदार रहा है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top