Religion

Bajrang Baan: बजरंग बाण के 8 अचूक उपाय, होगी मनवांछित फल की प्राप्ति

Bajrang Baan: नित्य भक्ति भाव से बजरंग बाण का पाठ करने से मनवांछित फल की प्राप्ति होती है, जानिए बजरंग बाण के अचूक उपाय.

जीवन में कभी भी कर्ज से संबंधित समस्या नहीं होगी करें खास उपाय:

बजरंगबाण से विवाह बाधा खत्म करने के लिए कदली वन, या कदली वृक्ष के नीचे हनुमान जी के मंदिर मे बजरंग बाण का पाठ करने से विवाह की बाधा खत्म हो जाती है, यहां तक कि तलाक जैसे कुयोग भी टलते हैं.

बजरंग बाण से ग्रहदोष भी समाप्त होते है, अगर किसी प्रकार के ग्रहदोष से पीड़ित हों, तो प्रात:काल बजरंग बाण का पाठ करे, घी का दीपक जलाकर पाठ करें, ऐसा करने से बड़े से बड़ा ग्रह दोष टल जायेगा.

शनि की ढैया या साढ़ेसाती अगर शनि,राहु,केतु जैसे क्रूर ग्रहों की दशा,महादशा चल रही हो तो नित्य पाठ करे, बंदरों को केले खिलाए,घी का दीपक जलाकर सिर्फ 3 बार बजरंगबाण का पाठ करना चाहिए.

बजरंगबाण से कारागार न्यायलय कोट कचहरी से मुक्ति के लिए, अगर किसी कारणवश जेल जाने के योग बन रहे हों, या फिर कोई संबंधी जेल में बंद हो, तो उसे मुक्त कराने के लिए हनुमान जी की मूर्ति पर पर सिंदूर चढ़ाएं, 11 बार बजरंग बाण पढ़ने से कारागार योग से मुक्ति होती है.

अगर आप हनुमान जी को 11 गुलाब चढ़ाते हैं या फिर चमेली के तेल में 11 लाल बत्ती के दीपक जलाते हैं तो बड़े से बड़े कोर्ट जैसे मामलों मे अनुकूल फल की प्राप्ति होती है.

सर्जरी और गंभीर बीमारी टाले बजरंग बाण

कई बार पेट की गंभीर बीमारी जैसे लीवर में खराबी, पेट में अल्सर या कैंसर रक्त विकार जैसे रोग हो जाते हैं, ऐसे रोग अशुभ मंगल ग्रह के चलते होते हैं, इस तरह के रोग से मुक्ति पानी हो तो हनुमान जी को 21 पान के पत्ते की माला चढ़ाते हुए 5 बार बजरंग बाण पढ़ना चाहिये, ध्यान रहे कि बजरंगबाण का पाठ राहुकाल में ही करें, पाठ के समय घी का दीप ज़रुर जलाएं, साधु संतों की सेवा करें.

नौकरी में अनुकूल फल दिलाए बजरंग बाण

अगर नौकरी छूटने का डर हो या छूटी हुयी नौकरी दोबारा पानी हो तो बजरंगबाण का पाठ रात में चंद्रमा के दर्शन करने के बाद करें, साथ में मंगलवार का व्रत भी रखें,

हनुमान जी को नारियल चढ़ाने के बाद, उसे लाल कपड़े में लपेट कर घर के आग्नेय कोण मे रखें, जिसके चलते नोकरी या कार्य क्षेत्र मे आ रही बाधा दूर हो जाती है.

वास्तुदोष दूर करे बजरंगबाण

कयी बार घर में वास्तुदोष के चलते नकारात्मक प्रभाव की अधिकता रहती है, जिसके चलते मन असंतोष भरा रहता है, तो घर में वास्तुदोष दूर करने के लिए घर के मंदिर मे घी का दीपक जलाकर 41 दिन तक 3 बार बजरंगबाण का पाठ करना चाहिए.

हनुमान जी को लाल झंडा चढ़ाने के बाद उसे घर के दक्षिण दिशा में लगाने से भी वास्तुदोष की शांति होती है, घर में सकारात्मक ऊर्जा के लिए पंचमुखी हनुमान की प्रतिमा घर के मुख्य द्वार पर लगायें.

बजरंग बाण से दवा असर करे कई बार गंभीर बीमारी में दवा फायदा नहीं करती दवा फायदा करे इसके लिए 2 बार बजरंग बाण का पाठ नित्य करें साथ ही साथ संजीवनी पर्वत की रंगोली बनाकर उस पर तुलती के 11 दल चढ़ाने से दवा धीरे धीरे असर करने लगती है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top