Rashifal

Rashifal: जून 2020 ग्रह नक्षत्रों के अनुसार कैसा रहेगा जून का महीना, जानिए मासिक गोचर फलादेश

मेष राशि

ग्रह नक्षत्रों के अनुसार मेष राशि के जातकों के लिए जून माह मानसिक तनाव की अधिकता रहेगी, साथ में शत्रु पक्ष से परेशानियां उत्पन्न हो सकती है, अनावश्यक तौर पर व्यर्थ की भागदौड़ अधिक रहेगी, 18 जून से अनावश्यक खर्चों में बढ़ोतरी होगी, साथ में घरेलू उलझनों के चलते विवाद उत्पन्न हो सकते हैं, किसी प्रयोजन से मुलाकात होगी, साथ में संतान पक्ष से कुछ चिंता रहेगी, स्वास्थ्य के प्रति खाने पीने में अतिरिक्त सावधानियां बरतें, जीवन साथी के साथ मनमुटाव रहेगा.

उपाय: सुंदरकांड का पाठ करना कल्याणकारी रहेगा.

वृषभ राशि

राशि के जातकों के लिए वृष राशि पर सूर्य का संचार के चलते तथा शुक्र वक्री होने से दौड़ भाग की अधिकता ज्यादा रहेगी, साथ में व्यावसायिक कार्यों के चलते परेशानियां बढ़ेगी, संघर्ष की अधिकता रहेगी,जिसके चलते स्वभाव में तेजी व क्रोध की अधिकता रहेग, व्यावसायिक कार्यों के चलते यात्रा हो सकती है, परिवारिक तोर महीना मिलाजुला रहेगा, प्रेम संबंध के चलते परेशानियां उत्पन्न हो सकती है, संतान परेशानियां चिंताएं रहेगी.

उपाय: संतान की उन्नति के लिए भगवती की आराधना करें.

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातको के लिए जून माह मास आरंभ से ही राशि पर बुद्ध राहु के योग होने से विशेष संघर्ष के उपरांत ही आय के साधन बनेंगे, अकस्मात खर्चो मे अधिकता होगी, जिसके चलते आर्थिक तोर पर परेशानी बड़ सकती है, 14 जून से सूर्य भी मिथुन राशि मे गोचर करेंगे, जिसके चलते क्रोध की अधिकता रहेगी, बाद विवाद बढ़ेंगे, साथ मे बनते कार्यो मे विघ्न उत्पन्न होंगे, सामाजिक तोर पर निराश रह सकते हैं, व्यवसाय तोर पर एकाग्रता भंग हो सकती है, स्वास्थय का अतरिक्त ध्यान रखने की आवश्यकता रहेगी.

उपाय: सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत से अभिषेक करे, गाय कुत्ते को रोटी खिलाएं.

कर्क राशि

धन राशि के जातकों के लिए गुरुवार शनि की दृश्य रहने से गत किए गए कार्यों में कुछ सुधार होने की संभावनाएं बनेगी, साथ में नए कार्यों की योजनाएं बनेगी इसके चलते धन खर्च में अधिक करेगी, मन में निराशा जैसे भाव उत्पन्न हो सकते हैं, बनते कार्य में विघ्नों के बावजूद कामयाबी की संभावनाएं बनेगी, कार्य में विघ्न उत्पन्न हो सकते हैं, जीवन साथी के साथ मनमुटाव रहेगा, पारिवारिक उलझनों के चलते हो सकता है, गाड़ी वाहन ध्यानपूर्वक चलाएं, किसी प्रकार की दुर्घटना या चोट आदि के योग बनते हैं.

उपाय: गायत्री मंत्र का नित्य जाप करें.

सिंह राशि

मंगल ग्रह की सप्तम कुछ रुके हुए कार्य में सफलता प्राप्त होगी, योग के चलते किसी कठिन कार्य में सिद्धि प्राप्त होगी, साथ में निर्भय योग के चलते धन प्राप्ति के साधन बनेंगे, साथ में संघर्षपूर्ण प्रक्रिया होगी, अपनों से निराश रहेंगे, परिवार से विशेष सहयोग प्राप्त नहीं हो पाएगा जिसके चलते चिंतित रहेंगे, विद्यार्थियों के यह मास चुनौतीपूर्ण रहेगा, घरेलू एवं पारिवारिक उलझनें बढ़ेगी, जिसके चलते वाद विवाद जैसी स्थितियां उत्पन्न हो सकती है, व्यावसायिक कार्य में तेजी देखने को मिलेगी, जीवन साथी के स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है.

उपाय: आदित्य हृदय स्तोत्र का नित्य पाठ करें.

कन्या राशि

कन्या राशि के जातको के लिए जून माह राशि स्वामी बुध दशम भाव में राहु ग्रह के साथ युक्ती के चलते दैनिक कार्यो मे प्रगति होगी, धीरे धीरे कार्यो मे सुधार होगा, भूमि वाहनादि के क्रय विक्रय की योजनाए बनेगी, पारिवारिक तोर पर परेशानी रहेगी, बहन के स्वास्थय के प्रति चिंतित रहेंगे, माता पिता के स्वास्थ्य मे गिरावट आ सकती है, 18 जून से राशि स्वामी बुध वक्री रहने से जीवन मे अनेक उतार चढ़वा के साथ कहीं तरह का परिवर्तनों का सामना करना पड़ेगा, अनावश्यक तोर पर यात्रा करनी पड़ सकती है, जीवन साथी के साथ विचारो मे भिन्नता के चलते मनमुटाव रहेगा.

उपाय: महामृत्युंजय का नित्य जाप करें.

तुला राशि के जातकों के लिए जून माह, मौसमी बीमारियों से अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता रहेगी, बनते कार्यों में विघ्न वार विलम रहेगा,अनावश्यक तौर पर भागदौड़ अधिक रहेगी, मानसिक तनाव के साथ धन खर्च अधिक रहेगा, 18 जून से मंगल की दृष्टि रहने से गुप्त चिंताएं बढ़ेगी साथ में परिवार में असमंजस जैसे भाव उत्पन्न होंगे, घर के सदस्यों का सहयोग प्राप्त नहीं हो पाएगा, जीवन साथी के साथ बाद विवाद बढ़ेंगे, की योग बनते हैं, कोर्ट कचहरी न्यायालय जैसे विवाद से दूर रहें, जीवन साथी एवं परिवार के सदस्यों के साथ विचारो में भिन्नता के चलते असमंजस जैसी स्थिति बन सकती है.

उपाय: गणेश चालीसा का नित्य पाठ करें.

वृश्चिक राशि

13 जून तक सूर्य की मित्र दृष्टि रहने से व्यावसायिक में संघर्ष के बाद आई के स्तोत्र बढ़ेंगे, 18 तारीख से मंगल पंचम स्थान में होने से स्वास्थ्य संबंधित कष्ट उत्पन्न होंगे धन खर्च में अधिकता रहेगी, स्वास्थ्य के प्रति विशेष सावधानियां बरतने की आवश्यकता ही रहेगी, मौसमी बीमारियों का प्रभाव रह सकता है, पारिवारिक तौर पर ग्रह सामान्य कारक फल प्राप्त करेंगे,व्यवसाय मे, नई योजनाएं संघर्ष के अनुरूप फलीभूत साबित होगी, आगजनी मशीन जैसे कार्य में अतिरिक्त सावधानी बरते.

उपाय: श्री सूक्त का नित्य पाठ करें.

धनु राशि

धनु राशि के जातकों के लिए विघ्न बाधाओं के बावजूद भी गुजारे लायक धन प्राप्ति के अवसर मिलते रहेंगे, धर्म-कर्म के कार्यों में रुचि बढ़ेगी, रागनी बिगड़े हुए कार्यों के बन जाने से खुशी का माहौल बनेगा, साथ में पारिवारिक के मौज मस्ती के चलते बिलासा कार्यो में धन खर्च में अधिकता रहेगी, उनके स्वास्थ्य के चलते चिंतित रह सकते हैं, व्यावसायिक कार्य में संघर्ष की अधिकता रहेगी, साथ में सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी.

उपाय: महामृत्युंजय जप का पाठ करें.

मकर राशि

मकर राशि के जातकों के लिए शारीरिक एवं मानसिक तनाव की अधिकता रहेगी, गाड़ी वाहन से शरीर को कष्ट का भय रहेगा, गाड़ी वाहन चलाते समय अधिक सतर्कता बरतें, घर परिवार की तरफ से चिंताएं उत्पन्न होगी, कुछ घरेलू परेशानियों से मानसिक तनाव उत्पन्न होगा, कारोबार में मध्यम फल रहेगा, विघ्न बाधाओं के बावजूद धन की प्राप्ति होगी, विलास आदि कार्यों में धन खर्च में अधिकता रहेगी, वैवाहिक सामान्य पूर्वक रहेगा.

उपाय: पितृ स्तोत्र का नित्य पाठ करें.

कुंभ राशि

कुम्भ राशि के जातकों के लिए तनाव एवं स्वास्थ्य में गिरावट रहेगी, आकाश मास यात्रा के योग बनते हैं, मंगल ग्रह का संचार होने से अत्यधिक भागा दौड़ करने पर ही विशेष जान लाभ होगा, व्यवसायी कार्य में हानि उठानी पड़ सकती, मौसमी बीमारियों के प्रति अधिक सतर्कता बरतें, गर्भवती महिलाओं के लिए अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता रहेगी, नोकरी कारोबार के चलते व्यर्थ की भागदौड़ बढ़ेगी, कोर्ट कचहरी जैसे मामले से दूर हैं, खुद पर नियंत्रण करें.

उपाय: महामृत्युंजय जप का नित्य पाठ करें.

मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए जून मास राशि स्वामी गुरु नीच राशि गत एवं शनि की दृष्टि होने से कुछ सूची योजनाओं में विघ्न बाधाएं उत्पन्न होगी, कार्य क्षेत्र में विघ्नों के बावजूद स्थिति कुछ अनुकूल होने के आसार बढ़ेंगे, कुछ सोची योजनाओं में आंशिक सफलता मिलेगी, साथ में गुप्त चिंता, अज्ञात भय पेट वा लीवर में खराबी के कारण विभिन्न परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है, धर्म-कर्म के कारणों के प्रति रुचि बढ़ेगी, जीवन साथी के स्वास्थ्य में गिरावट देखने को मिल सकती है, जीवन में अधिक संघर्ष रहेगा.

उपाय: केले के पेड़ की सेवा करें, गाय को नित्य रोटी खिलाएं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top