Uttarakhand: पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने पार्टी पर ही कसा तंज, बोले ‘अभिमन्यु को छल से मारा गया था’

JBT Staff
JBT Staff March 27, 2021
Updated 2021/03/27 at 12:52 PM

Uttarakhand: 4 साल के कार्यकाल के बाद बीजेपी ने उत्तराखंड की कमान त्रिवेंद्र सिंह रावत से छीनकर तीरथ सिंह रावत के हाथों सौंप दी, इतना तो साफ है की त्रिवेंद्र इस फेरबदल से नाखुश हैं क्योंकि उनका दर्द साफ झलकता है.

अपने विधानसभा क्षेत्र में होली मिलन समारोह के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री सीएम तीरथ सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) कई भावुक बातें करते हुए नजर आए, उन्हें अपने पद से हटने का कारण भी स्पष्ट नहीं है.

आपको बता दें इसी महीने के पहले हफ्ते में अचानक त्रिवेंद्र सिंह रावत की कुर्सी पर विचार होने की खबर चारों तरफ फैलने लगी, 9 मार्च शाम को उन्होंने राज्यपाल बेबी रानी मौर्या को जब इस्तीफा सौंपा तो खबर पर मुहर लग गई.

देहरादून के बालावाला में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित किया और बोले उनकी द्वारा लागू हुई योजनाएं राज्य की माताओं, बेटियों व युवाओं की मजबूती के लिए थीं.

उन्होंने दावा किया कि उनके राजनीती जीवन का आकलन करने पर पता चलेगा कि उन्हें मां, बहनों व भाइयों के आंखों में आखें डालकर कोई दिक्कत नहीं होगी, कहते हैं राजनीतिक रुप से जो कष्ट मिलेंगे उनका सामना करेंगे हटेंगे नहीं.

कार्यकर्ताओं के भावुक होने पर वह बोले इसकी जरूरत नहीं है, पांडवों की धरती के हैं हम लोग, कुरुक्षेत्र में अभिमन्यु को छल से मारा गया था तो द्रौपदी ने शोक नहीं व्यक्त किया था, बल्कि पांडवों को बदला लेने के लिए प्रेरित किया था.

साथ ही वह कहते हैं राजनीति में यह सब आम है, वह इस बात से संतुष्ट हैं कि राजनीति की काजल की कोठरी से वह साफ सुथरे निकले हैं. आपको बता दें नए सीएम तीरथ सिंह रावत के बयानों के बाद तो लोगों का कहना है पुराने रावत ही थी थे, सोशल मीडिया पर दोनों को लेकर कई मीम भी वायरल होते रहते हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.