UP: 21 साल की उम्र में जिला पंचायत अध्यक्ष की उम्मीदवारी, जानिए कौन है चर्चा में आरती तिवारी

JBT Staff
JBT Staff June 29, 2021
Updated 2021/06/29 at 5:33 PM

Uttar Pradesh Election 2021: विधानसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद का चुनाव किसी बड़े चुनावी मैदान से कम नहीं देखा जा रहा है, सपा और बीजेपी में आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जोरों पर है, इस बीच बीजेपी की युवा प्रत्याशी ने सुर्खियां बटोरी हैं.

आरती अभी ग्रेजुएशन के तृतीय वर्ष की ही छात्रा हैं लेकिन जिस तरह वह दिग्गजों के बीच चुनावी मैदान में उतर कर वोटरों को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं उसकी हर जगह खूब चर्चा हो रही है. प्रदेश की यह युवा बेटी अगर चुनावी मैदान में फतेह हांसिल कर लेती है तो वह सबसे कम उम्र की जिला पंचायत अध्यक्ष बन जायेगी.

आरती तिवारी (Aarti Tiwari) नाम की यह जिला पंचायत अध्यक्ष उम्मीदवार वर्तमान में बलराम जिले के महारानी लाल कुंवरि स्नातकोत्तर महाविद्यालय से स्नातक कर रही हैं, जिस उम्र में अधिकतर युवा आज फोन में तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वक्त जाया कर रहा है, वहीं आरती कुछ बदलाव के लिए राजनीति में कदम रखने जा रही हैं.

जहां तक अंदाजा लगाया जा रहा है आरती निर्विरोध ही इस कुर्सी पर बैठ सकती हैं क्योंकि विपक्षी दल से किसी नामांकन की खबर नहीं आई है, हालांकि इसमें विवाद गरमाया हुआ है. समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार, किरन यादव का आरोप है उसका अपहरण किया गया था.

पुलिस द्वारा नजरबंद करना व किडनेपिंग जैसी कई अफवाहें सुनने को मिली हैं. सोशल मीडिया पर किरन यादव ने वीडियो की माध्यम से जानकारी देने की कोशिश की है कि उनका पर्चा छीना गया है जिसके बाद समर्थकों ने जोरदार प्रदर्शन भी किया है. इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी बीजेपी पर छल कपट का आरोप लगाया.

बतौर जिला पंचायत सदस्य आरती ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 8500 वोटों से मात दी थी, इसके बाद बीजेपी ने उन्हें जिला पंचायत अध्यक्ष पद की कमान संभालने के लिए चुना.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.