Politics

72 वर्षीय सोनिया गांधी चुनी गयी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष, गांधी परिवार के अलावा फिर नहीं मिला विकल्प

Sonia Gandhi, Congress President: कांग्रेस कार्यसमिति ने सोनिया गांधी को चुना अंतरिम अध्यक्ष, गांधी परिवार के अलावा फिर नहीं मिला विकल्प.

कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की 11 घंटे लम्बी बैठक के बाद भी पार्टी को कोई नया चेहरा नहीं मिला, कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष के लिए CWC बैठक में व्यापक चर्चा हुई.

कांग्रेस वर्किंग कमिटी ने पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की लीडरशिप की तारीफ की और उन्हें हर पल पार्टी की सेवा के लिए धन्यवाद कहा. वहीं दूसरी तरफ सोनिया गांधी के अंतरिम अध्यक्ष बनने पर बीजेपी ने खूब निशाना साधा है.

कांग्रेस वर्किंग कमिटी का मकसद सिर्फ राहुल गांधी को वापस चेयर पर विराजमान करने का था लेकिन उन्हें मनाना टेढ़ी खीर साबित हुआ. शनिवार 10 अगस्त को यह बैठक 11-12 घंटे तक चली, अंततः सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया.

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के प्रस्ताव को कांग्रेस कार्यसमिति ने हरी झंडी दिखाई और वरिष्ठ नेत्री और पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी को पुनः कमान सौंपी गयी.

राहुल गांधी ने इस साल 25 मई को अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद से कयास लगाये जा रहे थे कि कोई नया चेहरा अब अध्यक्ष पद पर आयेया. दिसम्बर 2017 से अब तक के नेतृत्व के लिए राहुल गांधी की खूब प्रशंसा हुई.

शनिवार को CWC में 5 ग्रुप क्षेत्रवार तैयार किए गये, इसमें प्रदेश अध्यक्षों, सांसदों, सचिवों व विधायक दल के नेताओ को पक्ष रखने का मौका मिला था. बहुतों ने गांधी परिवार से बाहर नाम लिए लेकिन अंत में सीनियर लीडर पी चिदंबरम ने प्रस्ताव में सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाने को कहा.

सोनिया गाँधी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस फैसले पर आपत्ति जताई. कम ही नेताओं ने आपत्ति जताई, लगभग सबने 72 वर्षीय नेता से आग्रह किया कि वह ऐसे मौके पर पार्टी को राह दिखायें.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top