Politics

सिद्धू बोले थे अमेठी से कांग्रेस हारी तो राजनीति छोड़ दूंगा, सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल

Navjot Singh Sidhu trolled for his statement: नवजोत सिंह सिद्धू ने लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार प्रसार के वक्त भारतीय जनता पार्टी व पीएम मोदी के खिलाफ जमकर भाषणबाजी की लेकिन नतीजों ने उन्हें खामोश कर डाला है.

यहाँ तक कि लोग उनसे गुजारिश कर रहे हैं कि अब राजनीति को बख्श दो और कपिल शर्मा के शो पर लौट आओ. उन्होंने पिछले महीने एक बयान दिया था जिसमें वह कहते हैं कि “कांग्रेस अगर अमेठी से हारती है तो वह पॉलिटिक्स छोड़ देंगे“.

अमेठी को कांग्रेस डोमिनेटड क्षेत्र कहा जाता है क्योंकि यहाँ से कांग्रेस उम्मीदवार को हराना वाकई एक बड़ा टास्क है लेकिन स्मृति इरानी ने यहाँ मैदान मार डाला है.

यह भी पढ़ें:  SP सांसद शफीकुर्रहमान ने शपथ के बाद वंदे मातरम कहने से कर दिया इनकार, जानिए वजह

राहुल गांधी को 55120 वोटों से पराजित करने के बाद स्मृति इरानी का हौंसला बुलंद है, उन्होंने इसे अमेठी के लिए नई सुबह बताया. कांग्रेस, अमेठी क्या पूरे देश में कहीं भी लाज बचाने में नाकामयाब रही.

सालों से अमेठी पर कांग्रेस का दबदबा है, तभी सोनिया गांधी के लिए रायबरेली सीट पर 28 अप्रैल को प्रचार के दौरान सिद्धू ने बड़े दावे के साथ कहा था कि अमेठी में स्मृति इरानी और राहुल गांधी के बीच कोई मुकाबला नहीं है.

नवजोत सिंह सिद्धू के बड़े बोल आज बौने साबित हुए और स्मृति इरानी ने बड़े अंतर से विजय प्राप्त की. खैर सिद्धू की बातों व एक्शन को खुद कैप्टेन अमरिंदर सिंह कोसते रहे, कल ही उन्होंने ने कहा कि सिद्धू और पाकिस्तानी आर्मी चीफ बाजवा के गले मिलने से भी पार्टी को नुकशान हुआ है.

यह भी पढ़ें:  मुलायम सिंह यादव की तबियत फिर खराब, गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल के ICU में भर्ती

राहुल गांधी की जीत की दावेदारी सिद्धू को महंगी पड़ेगी, सोशल मीडिया पर उनके बयान को याद दिलाते हुए सभी उनसे पॉलिटिक्स छोड़ने की बात कह रहे हैं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top