आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार ने कहा, काबा और हरमंदिर साहब की तरह रामजन्मस्थल को भी नहीं बदल सकते

Umesh
Umesh October 29, 2018
Updated 2018/10/29 at 12:18 PM

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले पर सुनवाई से पहले आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार ने कहा है कि जिस तरह काबा, हरमंदिर साहब और वेटिकन को बदला नहीं जा सकता है, उसी तरह राम जन्मस्थान भी बदला नहीं जा सकता है. यह एक सत्य है.

2019 में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों से पहले हर राजनीतिक पार्टी इस समय राम मंदिर मुद्दे को अपना चुनावी हथियार बनाने में लगी हुई है. आज से सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर मामले पर सुनवाई शुरू करने जा रहा है. ऐसे में चुनावी माहौल के बीच बयानबाजी का दौर शुरू होना लाजमी है. सुनवाई से ठीक पहले आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का एक बयान आया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि जिस तरह काबा, हरमंदिर साहब और वेटिकन को बदला नहीं जा सकता है, उसी तरह राम जन्मस्थान भी बदला नहीं जा सकता. यह एक सत्य है.

इससे पहले भी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ राम मंदिर को लेकर अपना नजरिया स्पष्ट कर चुका है और भाजपा पर राम मंदिर निर्माण को लेकर दबाव भी बना रहा है. इसके अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर मुद्दे पर कहा कि सुप्रीम कोर्ट को सबरीमाला मंदिर की तरह ही मंदिर पर भी अपना फैसला देना चाहिए. सीएम योगी ने इस बयान के दौरान कहा कि राम मंदिर का विषय धार्मिक मामला है और इसे राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए.

गौरतलब है कि अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में अब सुप्रीम कोर्ट की नई बेंच सुनवाई करेगी. इसके लिए सुप्रीम कोर्ट में शुरुआती सुनवाई 29 अक्टूबर को शुरू होगी. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच के सामने मामला सुनवाई के लिए सौंपा गया है.

बता दें कि बीते 27 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अपने अहम फैसले में कहा था कि अयोध्या मामले को संवैधानिक बेंच के पास नहीं भेजा जाएगा. इसके मायने यह हुए कि अब जमीन किसकी है, सुनवाई यहां से होगी.

TAGGED: ,
Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.