India News

राजनाथ सिंह ने रिसीव किया राफेल, जानिए शस्त्र पूजा पर क्यों हुआ विवाद

Rafale Puja Politics: बड़े लम्बे इंतजार के बाद आधिकारिक तौर पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रिसीव किया राफेल, मंत्री जी ने पेरिस में रिसीव किया लड़ाकू विमान, नींबू नारियल आदि लेकर की पूजा अर्चना, विपक्ष व सोशल मीडिया यूजर्स ने इसी को बना दिया मुद्दा.

कल विजयदशमी (Vijaydashmi) और एयरफोर्स डे (Air Force Day) के अवसर पर इंडियन एयरफोर्स के ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से पल पल की खबर मिलती रही, फ्रांस में आयोजित एयरफोर्स डे सेरेमनी में पहुंचे रक्षामंत्री (Rajnath Singh) ने राफेल (Rafale) रिसीव करने के बाद हिन्दू रीती रिवाज से पूजा भी की.

दसॉल्ट कंपनी से रिसीव करने के बाद राजनाथ सिंह ने जब पूजा की तो, ट्विटर पर पूजा के सपोर्ट और विरोध में ट्वीट्स की बाढ़ आ गयी, अभी भी हैशटैग राफेल पूजा पॉलिटिक्स ट्रेंड कर रहा है. कुछ का मानना है विदेश में भी मंत्री जी ने ट्रेडिशनल पूजा पाठ कर शस्त्र रिसीव किया है.

यह भी पढ़ें:  Karnataka: 14 साल की जेल काटने के बाद पूरा किया डॉक्टर बनने का सपना, पढ़िए वायरल स्टोरी

वहीं दूसरी तरफ कुछ का मानना है देश कितनी भी तरक्की कर ले, ये अंधविश्वास की नौटंकी बीजेपी के लोग खत्म नहीं होने देंगे, उनका कहना है देश को प्रोटेक्ट करने के लिए राफेल खरीदा गया है और राफेल को प्रोटेक्ट करने के लिए नींबू, करोड़ों से बेहतर 10 के नींबू खरीद कर देश की रक्षा कर लेते.

आपको बता दें राफेल इंडिया का हो चुका है लेकिन इन 36 राफेल एयरक्राफ्ट को इंडियन एयरफोर्स के पास पहुंचने में लम्बा वक्त लगने वाला है. सितम्बर 2022 तक सारे विमान इंडिया के पास पहुंच जाएंगे.

अगले आठ महीनों में या कहें साल 4 विमान इंडिया में पहुंच जाएंगे, इस्तमाल होने में टाइम लगेगा या कहें 2021 तक इनका ठीक इस्तमाल होगा. भारत-फ्रांस के बीच 36 राफेल की डील लगभग 59 हजार करोड़ रुपये में हुई है.

यह भी पढ़ें:  Lisa Haydon: दूसरी बार मां बनी बॉलीवुड अदाकारा लिसा, खास संदेश के साथ शेयर की बेटे की फोटो

देखिए पूजा पर कैसी है लोगों की प्रतिक्रिया:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top