प्रयागराज कुंभ में लगी भीषण आग, सो रहे थे बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन बाल-बाल बचे

JBT Staff
JBT Staff February 13, 2019
Updated 2019/02/13 at 11:42 AM

Prayagraj Kumbh 2019: बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन ने भी प्रयागराज में अपना कैंप लगाया था लेकिन अचानक आग के लपटों में आने से उनका सामान जल के राख हो गया जबकि उन्हें सुरक्षाकर्मियों  ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया.

देश के अबसे ज्यादा आबादी वाला स्टेट उत्तरप्रदेश का बड़ा शहर प्रयागराज इन दिनों कुम्भ मेले के लिए हमेशा चर्चा में रहता है, देश से तमाम श्रद्धावान लोग यहाँ रुकते हैं और अपनी भक्ति का इजहार करते हैं, इसी बीच बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन के कैंप में आग लगने की भी खबर आई है.

बीती रात कैंप में आग लगने की खबर जब फैली थी उस वक्त बिहार के 83 साल के राज्यपाल लालजी टंडन सो रहे थे, उनका चश्मा, मोबाइल, घड़ी जैसे सामान जलकर राख हो गये.

तुरंत सुरक्षाकर्मियों को सूचित हुआ तो उन्होंने राज्यपाल टंडन को सर्किट हाउस शिफ्ट कर दिया. इस तरह एक बड़ा हादसा होने से टल गया.

यह हादसा देर रात करीब ढाई बजे सेक्टर 20 के अरैल इलाके में बने त्रिवेणी टेंट सिटी में हुआ, यहाँ भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार के राज्यपाल टंडन साहब गहरी नींद में सो रहे थे.

यह मामला कोई नया नहीं है, इससे पहले प्रयागराज कुम्भ 5 बार आग के लपटों में आ चुका है. इससे पहले 10 फरवरी, 5 फरवरी, 19 जनवरी, 16 जनवरी, 14 जनवरी को मठ, नाथ संप्रदाय के शिविरों, सेक्टर 13 में बने प्रयागवाल सभा, स्वामी वासुदेवानंद के शिविर में व दिगंबर अखाड़े में आग लग चुकी है.

3200 हेक्टेअर से अधिक भूमि पर आयोजित कुम्भ मेले के लिए तमाम इंतजाम सम्भाले गये हैं लेकिन भारी संख्या के लिए इंतजाम इतने पुख्ता नहीं हो पा रहे.

40 दमकल स्टेशनों के अलावा 6 हजार होमगार्ड, 40 थाने केन्द्रीय बलों की 80 कंपनियां और पीएसी की 20 कंपनियां मोर्चा संभाली हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.