Mansukh Mandaviya: 49 वर्षीय युवा स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया खराब अंग्रेजी के कारण ट्रोल, समर्थकों ने किया डिफेंड

JBT Staff
JBT Staff July 9, 2021
Updated 2021/07/09 at 9:56 AM

Mansukh Mandaviya: पीएम मोदी का नया मंत्रीमंडल खासा चर्चा में है, वजह यह भी है कि सीनियर लीडर्स की जगह थोड़ा यंग को मौका दिया गया है. पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की जगह ली है 49 वर्षीय मनसुख मंडाविया ने, उनके कुछ ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट तेजी से वायरल हो रहे हैं, जिनका खूब मजाक बन रहा है.

ट्विटर पर नए मंत्रियों में से इस वक्त मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) ट्रेंड कर रहे हैं, शपथ लिए अभी 2 दिन हुए हैं इसलिए काम की वजह से नहीं बल्कि खराब इंग्लिश की वजह से वह सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर हैं, वहीं समर्थकों ने उनका सपोर्ट करते हुए कहा कि सोनिया गांधी खराब हिंदी बोले तो सो क्यूट, और गुलामी की भाषा में कमी हुई तो बखेड़ा.

हालांकि मंत्री जी के अकाउंट से ये ट्वीट डिलीट किए जा चुके हैं लेकिन पुराने स्क्रीनशॉट अब भी सोशल मीडिया पर मौजूद हैं, ट्रोलिंग के बारे में उनसे भी मीडिया ने सवाल किया लेकिन वे हंसे और बोले इसका उनके पास जवाब नहीं. वह कहते हैं सरकार चलाने के लिए अंग्रेजी जरुरी नहीं है, वह अपने काम से जाने जाते हैं इसलिए पीएम मोदी ने उन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है.

कोरोना महामारी में इस विभाग को ऐसा नेता चाहिए था जो फैलसे ले सके और तीसरी लहर से पहले कुछ ठोस काम करके दिखाए, ऐसे में मनसुख का पद पर बैठना अपने आप में बड़ी काबिलियत का सबूत हैं, अंग्रेजी तो मात्र एक भाषा है. अंग्रेजी का मजाक बनाने वालों को वह तवज्जो नहीं दे रहे हैं, खैर ट्विटर पर वायरल हो रही ये पोस्ट साल 2013-14 के टाइम की हैं.

सपोर्ट में आए लोग:

ये वो कुछ स्क्रीनशॉट हैं जिनका मजाक उड़ाया जा रहा है:

समर्थकों ने कुछ इस तरह गिनाई उनकी काबिलियत:

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.