India News

पीएम मोदी पर सेना के राजनीतिकरण का आरोप, 150 से अधिक एक्स आर्मी ऑफिसर्स ने लिखा खत

Indian Army on Modi Sarkar: बॉलीवुड के बाद इंडियन आर्मी के अधिकारियों ने मोदी सरकार के खिलाफ दिया बयान. पीएम मोदी के भाषणों से खफा तीनों सेनाओं के 8 पूर्व प्रमुख सहित 150 से ज्यादा पूर्व सैन्य अधिकारियों ने भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लिखा खत.

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट (Balakot) में एयर स्ट्राइक (Air Strike) की थी, इसी बात को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण में शामिल करते हुए वोट करने की अपील की, जिसे आर्मी वालों ने राजनीतिकरण कहा है. दूसरी तरफ चुनाव आयोग इस टिप्पणी की जांच कर रहा है.

यह भी पढ़ें:  जसलीन मथारू और अनूप जलोटा की जोड़ी फिल्म में आएगी नजर, यहां रही डीटेल्स

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) शुरू हो चुके हैं, पहला चरण उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम व अन्य जगह सम्पन्न कराया गया है, ऐसे चुनावी माहौल में सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेकर वोट मांगना सेना को पसंद नहीं आया.

पहले चरण के दिन या कहें 11 अप्रैल को सेना की यह चिट्ठी सार्वजानिक हो चुकी है, जिसके बाद विपक्ष को भी खूब बोलने का मौका मिला है. इस चिट्ठी में सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेना व सेना को मोदी सेना कहने पर आपत्ति जताई है.

पहले चरण के चुनाव से पहले महाराष्ट्र के लातूर की रैली में नरेंद्र मोदी ने पहली बार मतदान करने जा रहे मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि ‘वे अपने मत उन बहादुर लोगों को समर्पित करें, जिन्होंने पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले को अंजाम दिया था‘.

यह भी पढ़ें:  IND vs SA: किंग कोहली को बधाई देकर चहल ने खुद को बनाया ट्रोलर्स का निशाना

इस तरह से वोट की अपील करना सेना को बिलकुल रास नहीं आया. कांग्रेस के अलावा अन्य राजनितिक दलों ने भी पीएम के बयानों की आलोचना की है.

पूर्व सैन्य अधिकारियों द्वारा राष्ट्रपति कोविंद को लिखा गया खत

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने तो निर्वाचन आयोग से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ शिकायत भी की है.उन्होंने इसे आचार संहिता का उल्लंघन भी बताया है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top