Politics

भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ का सीएम बनते ही किसानों का 6100 करोड़ का कर्ज माफ किया

जैसा कमलनाथ ने मध्यप्रदेश में किया, ठीक उसी तरह भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ का सीएम बनते ही किसानों को बड़ी राहत देते हुए कर्जमाफ़ी का ऐलान किया.

तीन राज्यों में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद 17 दिसम्बर कांग्रेस के लिए नए मुख्यमंत्रियों के शपथ ग्रहण का दिन रहा. सबसे पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में अशोक गहलोत और उनके साथ डिप्टी सीएम के रूप में सचिन पायलट ने शपथ ग्रहण की. इसके बाद कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली.

इसके बाद नंबर आया छत्तीसगढ़ का. भूपेश सिंह बघेल ने छत्तीसगढ़ की कमान संभाली. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई. भूपेश बघेल राज्य के तीसरे मुख्यमंत्री बने.

यह भी पढ़ें:  सिंगर हार्ड कौर के खिलाफ देशद्रोह का मामला, CM योगी व RSS प्रमुख मोहन भागवत पर की थी टिप्पणी

बहरहाल, मुख्यमंत्री बनने से ज्यादा 17 दिसम्बर का दिन इन मुख्यमंत्रियों की घोषणाओं के लिए चर्चा में रहा. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की कुर्सी संभालते ही कमलनाथ ने किसानों के कर्जमाफ़ी की फाइल साइन कर दी. इससे बीजेपी को बड़ा झटका लगा. अभी बीजेपी ये बात हजम कर पाती कि भूपेश बघेल ने भी ऐसा ही फैसला लिया.

भूपेश बघेल ने छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही अपने वाडे के मुताबित किसानों का कर्ज माफ़ कर दिया है. उन्होंने 16.65 लाख किसानों का सरकारी बैंकों से लिया गया 6100 करोड़ रुपए का कर्ज माफ करने का ऐलान किया.

यह भी पढ़ें:  बिहार: चुनाव परिणाम के बाद से गायब हैं तेजस्वी यादव, एक व्यक्ति ने लगाए ईनामी पोस्टर

बघेल ने पहले ही दिन कई बड़ी घोषणाएं की. बघेल ने धान पर समर्थन मूल्य 2500 रुपए प्रति क्विंटल करने की घोषणा की. अभी किसानों को 1750 रु. प्रति क्विंटल के हिसाब से समर्थन मूल्य मिलता है. बघेल ने इसमें 750 रुपए प्रति क्विंटल की प्रोत्साहन राशि शामिल कर दी है.

बघेल ने झीरम घाटी हमले की जांच के लिए एसआईटी के गठन के आदेश दिए हैं. 2013 में हुए इस नक्सली हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नंद कुमार पटेल समेत 29 लोग मारे गए थे.

भूपेश बघेल के शपथ ग्रहण में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, नारायण सामी, सचिन पायलट, राज बब्बर, जतिन प्रसाद, नवीन जिंदल, राजीव शुक्ला और नवजोत सिंह सिद्धू शामिल हुए.

1 Comment

1 Comment

  1. Hayat Singh

    December 18, 2018 at 10:18 am

    Jay kisan jay jawan Nara ab sakar hote dikhai de rha hai. kisan Marta khet mai jawan Marta hai srhad mai .dono ka bhala hogya smjho Hindustan ka bhala apne aap hone lag jayega. ( Dhanyabad)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top