Bihar: चिराग पासवान ने पहली बार की सौतेली मां से मुलाकात, पांव छूकर आशिर्वाद तो लिया लेकिन बात नहीं की

JBT Staff
JBT Staff October 22, 2020
Updated 2020/10/22 at 2:46 PM

Bihar: देश के चर्चित दलित नेता रामविलास पासवान के निधन को लगभग आधा महीना गुजर गया है, बेटे चिराग ने घर परिवार के साथ ही पार्टी की भी देखरेख शुरू कर दी है. इस बीच उनकी मुलाकात सौतेली मां या कहें रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी से हुई.

बीते सोमवार को चिराग पासवान (Chirag Paswan) पिता के श्राद्ध के मौके पर शहरबन्नी गांव पहुंचे, कोसी-कमला नदी में स्वर्गीय पिता की अस्थियां विसर्जित की गई. गांव में भोज के दौरान चिराग पासवान और सौतेली मां राजकुमारी देवी की मुलाकात हुई. चिराग ने बड़ी मां के पांव छूकर आशीर्वाद लिया व गले भी मिले.

नवभारत टाइम्स से हुई बातचीत में राजकुमारी देवी कहती हैं कि बेटे ने प्रणाम किया, गले लगाया लेकिन कोई बातचीत नहीं हुई. स्वर्गीय रामविलास पासवान ने साल 2014 में खुलासा किया कि उनका पहली पत्नी राजकुमारी से साल 1981 में तलाक हो गया था, नामांकन में आ रही अड़चन की वजह से उन्होंने पहली पत्नी वाला मामला बताया था.

वहीं पत्नी राजकुमारी ने कभी खुद को तलाकशुदा नहीं समझा, वह लीडर के देहांत तक मांग में सिंदूर भरा करती थी. बता दें लीडर ने 1983 में पंजाबी एयरहोस्टेस रीना शर्मा से प्रेम विवाह कर लिया था, जिनसे जन्मे थे चिराग व छोटी बहन. पहली पत्नी से 2 बेटियां जन्मी थी, दोनों ही शादीशुदा जीवन जी रही हैं.

एनबीटी से हुई बातचीत के अनुसार राजकुमारी कहती हैं, वो तो रहे नहीं अब बेटा ही सहारा है. पापा के रहते बेटे से कभी बात मुलाकात नहीं हुई लेकिन अब वह ख्याल रखता है तो हमेशा आशिर्वाद है. पूछा गया कि चिराग पासवान पहली बार मिले तो क्या बात हुई जवाब मिला ‘हां पहली बार मिले लेकिन बात नहीं हुई, प्रणाम किया और गले मिले’.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.