Uttarakhand Disaster: उत्तराखंड आपदा में 200 लोगों की लापता होने की खबर, 28 पहुंचा मौत का आंकड़ा

JBT Staff
JBT Staff February 9, 2021
Updated 2021/02/09 at 12:39 PM

Uttarakhand Disaster: आर्मी, आईटीबीपी, एनडीआरएफ, और एसडीआरएफ की जॉइंट टीम की भारी मशक्कत अब भी जारी है, टनल में फंसे लोगों को निकालने में उत्तराखंड सरकार द्वारा लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है, बुरी खबर है कि मृतकों की संख्या बढ़कर 30 के पास पहुंच चुकी है.

सोशल मीडिया पर कई तरह की विडियो वायरल हो रही हैं, इस भयानक आपदा से बचने के बाद मजदूरों के खुशी का ठिकाना नहीं, सुरक्षाबलों के हाथ में जाते ही उनके द्वारा जय बद्री विशाल के नारे लगने लगे, ये तस्वीरें वाकई भावुक करती हैं.

देश के 8-9 जिलों के लोग इस आपदा में लापता हैं, इसमें उत्तराखंड के अलावा उत्तर प्रदेश, पंजाब, झारखंड, हिमांचल प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, जम्मू कश्मीर आर ओडिशा से लोग शामिल हैं, देश की बात करें तो भारत के अलावा पड़ोसी देश नेपाल के लोग इसमें शामिल हैं.

ANI ने लेटेस्ट ट्वीट में खबर साझा की जहां प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि टनल एक अंदर 35 लोग फंसे हैं, रस्सी व ड्रिल की मदद से उन्हें निकालने की पूरी कोशिश की जा रही है. साथ ही सीएम साहब ने मरने वालों की खबर दी कि अब तक 28 डेड बॉडी हाथ लगी हैं.

लापता लोगों की लिस्ट न्यूज वेबसाइट जागरण द्वारा जारी की गई है, उत्तर प्रदेश व बिहार के श्रमिकों की संख्या इसमें सबसे ज्यादा है, राहत व बचाव कार्य जारी है. तपोवन टनल पर ITBP, NDRF, SDRF की जॉइंट टीम इसमें जुटी है.

 

आपदा प्रभावित इलाके के आस पास हेलीकॉप्टरों की मदद से खाद्य सामग्री बांटी जा रही है. रैंणी गांव के पास जो पुल ग्लेशियर की भेंट चढ़ा है, वहां जल्द से जल्द बीआओ वैली ब्रिज बनाने की प्लानिंग चल रही है.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.