Uttar Pradesh: 2 दिन में 7 ने की आत्महत्या, गौतमबुद्ध नगर के इस मामले ने सबको हैरानी में डाला

JBT Staff
JBT Staff July 13, 2021
Updated 2021/07/13 at 9:08 AM

Gautam Budhh Nagar Suicide Case: एक ही जिले से आधे दर्जन से ज्यादा खुदकुशी के मामले और वो भी मात्र 48 घंटे के भीतर, यह मामला बेहद हैरान करने वाला है. इसमें 18 वर्ष की युवा पीढ़ी से लेकर उम्रदराज महिला तक शामिल है.

130 करोड़ आबादी वाले मुल्क में तनाव, आर्थिक तकलीफों, प्यार में नाकामी व तबियत आदि की वजह से आए दिन आत्महत्याओं का ग्राफ भी बढ़ता रहता है, 2019 में एक सर्वे की मानें तो प्रतिदिन भारत में साढ़े तीन सौ से ज्यादा लोग अपनी जिंदगी को खत्म कर देते हैं लेकिन एक ही जिले से मात्र 48 घंटे के भीतर 7 लोग जीवनलीला समाप्त करेंगे तो यह ग्राफ चौंकाने वाला हो सकता है.

आज तक की रिपोर्ट कहती है उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर में 48 घंटे के अंदर अलग-अलग जगहों पर 7 खुदकुशी के मामले प्रकाश में आए हैं, जिसमें लगभग हर आयु वर्ग के लोग शामिल हैं. मात्र 18 वर्षीय एक नवविवाहिता खिड़की से फंदा लगाकर अपनी जिंदगी को हमेशा के लिए खुद से छीन लेती है, यह मामला जिले के थाना फेज 3 का है.

उम्र में छोटी युवती को शक था कि उसका पति किसी अन्य महिला से फोन पर बात करता है, वह इस स्थिति को संभालने के बजाय आत्महत्या का रास्ता अपनाती है. भयाव इत्तेफाक में सेक्टर-107 स्थित सनवर्ल्ड वनालिका सोसाइटी में 20 वर्षीय इंजीनियरिंग स्टूडेंट ने 14वीं मंजिल से छलांग लगाकर खुदकुशी कर ली.

फेस-2 के युवक ने रविवार को पंखे से लटककर जान लेली, कासना की विवाहित 20 वर्षीय युवती ने भी पंखे से लटकर जान लेली. थाना सेक्टर-49 क्षेत्र के महागुन मॉडर्न सोसायटी की 82 वर्षीय महिला ने 20वें मंजिल से छलांग लगा दी थी, बीमारी के चलते वह तनाव में थी, नोएडा के बिसरख में 42 वर्षीय शख्स ने भी मानसिक तनाव के कारण खुद की जिंदगी खत्म कर डाली.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.