UP: जबरदस्ती धर्मांतरण करवाने वाले रैकेट का खुलासा हुआ ऐसे, अब हजार से ज्यादा लोगों का धर्म परिवर्तन

JBT Staff
JBT Staff June 21, 2021
Updated 2021/06/21 at 6:49 PM

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश में बड़े स्तर पर धर्म परिवर्तन का काम चल रहा है, पुलिस रिपोर्ट का दावा है कि इसमें विदेशी फंड का इस्तेमाल हो रहा है. यूपी पुलिस द्वारा 2 मौलानाओं को गिरफ्तार किया है जबकि 100 से भी ज्यादा लोगों की इसमें शामिल होने की आशंका है.

उत्तर प्रदेश एडीजी (लॉ एंड आर्डर) प्रशांत कुमार के मुताबिक बीते एक साल की बात करें तो साढ़े तीन सौ लोगों का धर्म परिवर्तन इस गिरोह द्वारा कराया गया है. इस सरगना को चलाने वाले मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी और मोहम्मद उमर गौतम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, दोनों से पुलिस कड़ी पूछताछ कर ही है.

भारत जैसे मुल्क में जहां हर इंसान अपने तौर तरीके से जीने का हक रखता है, वहां 2 साल से जबरदस्ती धर्मांतरण का कारोबार सा चल रहा है और अब पुलिस की चालाकी की वजह से मामला सामने आया है. आज तक की रिपोर्ट की मानें तो अब तक दो साल में 1000 से ज्यादा लोगों के साथ धर्म परिवर्तन का खेल रचा गया है.

यूपी एटीएस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है, बीते 2 जून को डासना वाले स्वामी यति नरसिंहानंद के आश्रम से शाम को 2 संग्दिधों को हिरासत में लिया गया तो जैसे कि नरसिंहानंद पहले भी इस बात का जिक्र कर चुके हैं, इन दोनों से नाम पूछा गया तो वे अपना नाम विपुल विजयवर्गीय व काशी गुप्ता बताते हैं, सख्ती से पूछताछ करने पर काशी काशिफ निकला.

तलाशी के बाद उनके पास से सर्जिकल ब्लेड, लिक्विड, दवा, धार्मिक किताबें लगी तो उनके रैकेट के बारे में धीरे धीरे सुराग मिलते रहे. अब तक कई परिवारों से इस बारे में पूछताछ की जा चुकी है. मामला प्रकाश में आने के बाद योगी पुलिस सख्ती से कार्रवाई कर रही है, सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा सख्त निर्देश दिए जा सकते हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.