UP: दलित युवक की ठाकुरों ने पिटाई कर दाढ़ी-मूंछें कटवाई, पीड़ित ने छोड़ा गांव

JBT Staff
JBT Staff July 24, 2021
Updated 2021/07/24 at 5:34 PM

Uttar Pradesh: 21वीं सदी में भारत को पीछे धकेलने का काम रहे समाज में क्या क्या देखने को नहीं मिलता है, उत्तर प्रदेश की खबर बेहद चौंकाने वाली है. 20 वर्षीय युवक को गांव में चल रहे जातीय संघर्ष का जो अंजाम देखने को मिला है, उससे आहत होकर उसने गांव तक छोड़ने का फैसला कर लिया.

मामला सहारनपुर के बडगांव थाना क्षेत्र में पड़ने वाले शिमलाना गांव का है जहां ठाकुर समाज के कई युवकों पर दलित युवक को उत्पीड़ित करने का आरोप है, दबंगों का हौंसला इस कदर बुलंद है कि खुद सोशल मीडिया पर इसकी वीडियो वायरल कर दी तांकि बराबरी करने का अंजाम पता चल सके लेकिन मामले ने तूल पकड़ लिया है, भीम आर्मी ने तो ऐसे लोगों पर NSA लगाने की तक मांग की है.

20 वर्षीय रजत कुमार की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सर्कुलेट हो रही हैं, उसने गांव के युवकों के खिलाफ मुकदमा तो कर दिया है लेकिन खुद गांव छोड़ दिया है, बताया जा रहा है कि पीड़ित रजत अपने भाई के साथ किसी गुप्त जगह पर चला गया है जबकि मां-बाप गांव में ही हैं.

शुक्रवार को गांव में इसपर पंचायत भी बैठी, पीड़ित को समझौते के लिए मनाया जा रहा था. गांव में जहां 2500 ठाकुर तो 1800 दलित भी हैं, घटना के बाद तनाव का माहौल है, किसी तरह की अप्रिय घटना न हो इसलिए पुलिस भी तैनात कर दी गई है, हालांकि आरोपियों के परिवारों द्वारा पीड़ित पक्ष पर मामला रफा दफा करने का दबाव बनाया जा रहा है.

नाई ने पुलिस को जानकारी दी कि वह दबंगों के इरादे के बारे में कुछ नहीं जानता था, SC-ST एक्ट व संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज हो चुका है. पीड़ित पक्ष के लोगों का कहना है रजत से कहा गया कि दाढ़ी मूंछें ठाकुरों की पहचान है, उसे इसका हक नहीं.

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.