Unnao Nightmare: उन्नाव की कहानी आपको झकझोर के रख देगी, प्यार दोस्ती शादी से लेकर जिंदा जलाकर हत्या

JBT Staff
JBT Staff December 7, 2019
Updated 2019/12/07 at 1:36 PM

Unnao Nightmare: हैदराबाद डॉक्टर प्रियंका रेड्डी के बाद देश की एक और बेटी गैंगरेप और मर्डर का शिकार हो गई सभी देशवासी उत्तर प्रदेश पुलिस को नसीहत दे रहे हैं कि साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार से कुछ सबक लें.

आपको बता दें 6 दिसंबर की सुबह प्रियंका रेड्डी (Priyanka Reddy) के कातिलों को एनकाउंटर में मार गिराया था लेकिन उत्तर प्रदेश के शैतानों पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है, उन्नाव से लगभग 50 किलोमीटर दूर घटी यह घटना किसी बुरे सपने से कम नहीं.

पिछले साल दिसंबर में हुई यह घटना 1 साल बाद भी इंसाफ के लिए तरस रही है उन्नाव हिंदूपुर गांव की घटना प्रेम प्रसंग से शुरू होती है शिवम त्रिवेदी नाम का युवक पड़ोस में रहने वाली युवती से चुपके से शादी कर लेता है लेकिन आपसी झगड़ों ने इस रिश्ते को ऐसे अंजाम तक पहुंचाया की आज पीड़िता मौत से जंग लड़ने के बाद हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह गई.

पिछले (2018) दिसंबर, युवती इंसाफ की गुहार लगाने थाने जाती है लेकिन उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं होती, जैसे तैसे कोर्ट से वारंट आने के बाद इस मामले पर पुलिस रुख करती है. इसके बाद युवती कोर्ट के चक्कर लगाते रहती है, गुरुवार 5 दिसंबर युवती के लिए एक भयानक मंजर भरा साबित हुआ.

वह जब घर से 2 किलोमीटर दूर रेलवे स्टेशन पर जा रही होती है तो 5 शैतान उससे इस केस को वापस लेने की जिद करते हैं. देर तक विवाद चलने के बाद वे पीड़िता पर पेट्रोल छिड़क देते हैं पीड़िता तब भी समझौते को तैयार नहीं होती है तो को जिंदा जला दिया जाता है.

90% से ज्यादा जल चुकी पीड़िता को सफदरगंज अस्पताल दिल्ली में भर्ती कराया जाता है लेकिन 24 घंटे के अंदर वह जिंदगी से जंग हार जाती है. मुख्य आरोपी शिवम त्रिवेदी, शुभम त्रिवेदी व तीन को पुलिस हिरासत में लेती है लेकिन अब तक कोई कड़ी कार्रवाई सुनने में नहीं आ रही है.

जबकि देशभर से लोगों की आवाज आ रही है कि इन शैतानों को भी प्रियंका रेड्डी के कातिलों की तरह मुठभेड़ में मार गिराना चाहिए. यह भयानक जुर्म की कहानी 2 साल पहले शुरू होती है, जब हिंदूपुर के किसी ग्राम प्रधान के घर के चिराग को पड़ोस में रहने वाली युवती से प्रेम हो जाता है.

दोनों चुपके से शादी करते हैं, व घर से बाहर रहना शुरू करते हैं. दोनों के बीच मनमुटाव होता है जिसके बाद शिवम त्रिवेदी युवती के साथ रहने से इंकार कर देता है. पिछले साल 12 दिसंबर को शिवम त्रिवेदी पीड़िता को किसी जगह पर बुलाता है, पीड़िता को लगता है शायद उसका प्यार उसे बुला रहा है लेकिन उसका प्रेमी हर दिन नीचे गिर रहा था, बुलाई गई जगह पर युवती जाती है तो शिवम के साथ आए उसका रिश्तेदार शुभम त्रिवेदी भी युवती के साथ दुष्कर्म करता है.

बेखौफ आरोपी यहीं नहीं रुकते हैं पुलिस के पास बार-बार जा रही युवती को ब्लैकमेल किया जाता है और फिर 1 दिन ऐसा आता है कि आरोपियों की मदद कर रहे शैतान के अलावा दो अन्य शिवम के जानने वाले पीड़िता  को हवस का शिकार बनाते हैं.

मायावती, ममता बनर्जी से लेकर प्रियंका गांधी तक कई नेताओं ने योगी सरकार पर सवाल उठाए हैं, सोशल मीडिया पर भी उन्नाव को लेकर आक्रोश दिख रहा है.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.