India News

Uttarakhand: कोरोना को मात देकर लौटे तीरथ सिंह रावत, शुरू हुआ बिना सोचे बोलने का सिलसिला

Uttarakhand: हाल ही में 4 अप्रैल को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने खबर साझा की, वह 48 घंटे के अंदर दोनों बार कोरोना नेगेटिव पाए गए हैं, चाहने वालों को स्वास्थ्य लाभ के लिए उन्होंने धन्यवाद मेसेज लिखा. वहीं आज हरिद्वार में उनकी जुबान फिर फिसली, उनके तथ्य ने ट्रोल करने वालों को फिर न्योता दे डाला.

मार्च में नैनीताल जिले के रामनगर से लौटने के बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, रामनगर का ही दौरा था जब मुख्यमंत्री रावत का विवादित बयानों से आखिरी टाइम फजीहत हुई थी, बहुत दिनों बाद फिर एक बार उनकी नॉलेज पर सवाल उठने लगे हैं.

यह भी पढ़ें:  Kartik Aaryan: कार्तिक आर्यन हुए धर्मा प्रोडक्शन के दोस्ताना से बाहर, करण जौहर पर टूट पड़े फैंस

बता दें उस दिन सीएम रावत ने देश को अमेरिका का गुलाम बता डाला था, साथ ही ज्यादा बच्चे ज्यादा राशन वाले बयान को लेकर भी विपक्ष ने उन्हें खूब निशाना बनाया. नवनियुक्त सीएम फटी जींस व शॉर्ट्स को लेकर भी खूब ट्रोल हुए थे. अब उनका ज्ञान कहता है कि हरिद्वार के अलावा बनारस में भी कुम्भ आयोजित होता है.

तीर्थ नगरी हरिद्वार में कुंभ कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान संबोधन हुआ तो प्रदेश के मुखिया की जुबान फिर बेकाबू नजर आई, अपने पुराने बयान को दोहराते हुए वह कहते हैं उन्होंने कहा था महाकुंभ 12 साल में आता है, मेले कहीं भी हो सकते हैं लेकिन महाकुंभ तो हरिद्वार में ही होता है, बनारस व उज्जैन में होता है, इसलिए भव्य-दिव्य होना चाहिए.

यह भी पढ़ें:  Delhi Crime: पत्नी के चरित्र पर था शक, सरेआम पति ने 17 बार घोंपा चाकू

कुंभ की बात की जाए तो हरिद्वार के अलावा प्रयागराज (पूर्व में इलाहाबाद), उज्जैन व नासिक में होता है. इसी तरह वह ब्रिटिश सरकार व अमेरिका को लेकर कंफ्यूज हो गए थे, सोशल मीडिया पर उन्हें बहुत ट्रोल होना पड़ा था लेकिन शायद वह होमवर्क पर ज्यादा ध्यान नहीं देते.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top