India News

Tikri Border Gang Rape: किसान आंदोलन में शामिल युवती के साथ गैंगरेप, नहीं रही कोरोना संक्रमित पीड़िता

Tikri Border Gang Rape: किसानों व केंद्र सरकार के बीच चल रहे अनबन के बीच टिकरी बॉर्डर से चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है, रिपोर्ट का कहना है कि किसान आंदोलन में भाग लेने आई पश्चिम बंगाल की युवती का 11 अप्रैल को कुछ किसान नेताओं द्वारा सामूहिक बलात्कार कर दिया गया था.

मामले से जुड़ी एक और दुखद खबर सामने आ रही है, जिस युवती के साथ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्जा किया जा चुका है उसकी मौत बीते 30 अप्रैल को कोरोना संक्रमण से हो चुकी है. पीड़िता के पिता ने मामले में जांच की मांग व आरोपियों के खिलाफ सख्त सजा की गुहार लगाई है.

दिवंगत युवती के पिता ने टिकरी बॉर्डर पर आंदोलन की कमान संभाल रहे किसान सोशल आर्मी के अनूप व अनिल मलिक व चार अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. बताया जा रहा है युवती 11 अप्रैल को पश्चिम बंगाल से दिल्ली पहुंची थी, खराब तबियत के चलते 30 अप्रैल को जब उसे शिवम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया तो उसके साथ कुकृत्य का खुलासा हुआ था.

किसान आंदोलन में यह गैंगरेप का मामला बड़ा विवाद खड़ा कर सकता है, वहीं किसान आंदोलन में जिम्मेदार किसान नेता इससे जुड़े सवालों से पीछा छुड़ाने की कोशिश में जुटे हैं, फरीदाबाद पुलिस ने IPC धारा 365, 342, 354, 376 व 120बी के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है.

इस गंभीर मामले को लेकर दिल्ली पुलिस द्वारा SIT गठित की जा चुकी है, आरोपी अनूप, अनिल मलिक सहित 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है, टिकरी बॉर्डर पर हुए इस दुष्कर्म मामले ने कई दिनों बाद तूल पकड़ा है. पीड़िता का अचानक गुजर जाना भी मामले में कई सवाल खड़े कर रहा है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top