Tarun Tejpal: जाने माने जर्नलिस्ट तरुण तेजपाल यौन शोषण मामले में हुए बरी, 8 साल बाद आया बड़ा फैसला

JBT Staff
JBT Staff May 21, 2021
Updated 2021/05/21 at 11:54 AM

Tarun Tejpal acquitted: साल 2013 में तहलका न्यूज चैनल के फाउंडर तरुण तेजपाल खुद ही कानूनी पचड़े में तब फंस गए जब उनके सहकर्मी ने जर्नलिस्ट के खिलाफ कुछ अहम सुराग देकर साबित करने की कोशिश की कि उसके बॉस ने उससे एक नहीं बल्कि दो बार शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश की.

एक के बाद एक कई स्टिंग ऑपरेशन कर बड़े बड़े खुलासे करने वाले तरुण तेजपाल (Tarun Tejpal) पर आरोप लगा कि वह अपनी पॉवर व पैसों का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं, सहकर्मी ने आरोप लगाया कि जर्नलिस्ट ने 7 नवंबर 2013 को पार्टी खत्म होने के बाद शराब के नशे में उन्हें गलत इरादे से टच किया और उन्हें फोर्स किया, वह जैसे तैसे लाइफ से भागने में सफल रही.

गोवा के लक्जरी होटल के सीसीटीवी फुटेज, पीड़िता के ईमेल, व तरुण तेजपाल द्वारा भेजे गए टेक्स्ट मेसेज के आधार पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ, IPC धारा 342, 354, 354ए, 376 (महिला पर अधिकार की स्थिति रखने वाले व्यक्ति द्वारा बलात्कार), 376 (नियंत्रण कर सकने वाले शख्स द्वारा बलात्कार) मुकदमा दर्ज हुआ.

30 नवंबर 2013 को तरुण तेजपाल को अरेस्ट किया गया था, स्ट्रोंग एविडेंस न होने पर तुरंत ही रिहा भी कर दिया गया था. कार्रवाई आगे बढ़ी तो फरवरी 2014 में 2846 पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी, मई 2014 में वह फिर जमानत पर बाहर आ गए. गोवा के जिला एवं सत्र न्यायालय मापुसा में इस केस की आज सुनवाई हुई, 58 वर्षीय पत्रकार को बरी कर दिया गया है.

बता दें गोवा के फाइव स्टार होटल में तहलका का ही कोई प्रोग्राम था जिसमें देश विदेश के कई बड़ी हस्तियों ने भाग लिया था, पीड़िता ने आरोप लगाया कि लिफ्ट में गलत ढंग से छूने के बाद उसे डराया धमकाया भी गया था.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.