Supriya Murder Case: सुप्रिया तिवारी हत्याकांड का अभी तक नहीं लगा सुराग, सीएम व रेलवे मंत्री को लिखे खत

JBT Staff
JBT Staff May 20, 2021
Updated 2021/05/20 at 3:10 PM

Supriya Murder Case: 3 मार्च को सुप्रिया तिवारी की लाश गुजरात के लिमखेड़ा में रेलवे ओवरब्रिज के पास मिली थी लेकिन अब तक उसके कातिलों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है. परिजनों का कहना है सेकंड एसी में सवार थी उनकी बेटी, सोमनाथ एक्सप्रेस से अहमदाबाद से भोपाल आ रही थी.

ट्विटर पर हैश टैग जस्टिस फॉर सुप्रिया (#JusticeForSupriya) से मामला तूल पकड़ रहा है, लोगों ने मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान व केंद्रीय रेलवे मंत्री पीयूष गोयल को चिट्ठी लिखकर मामले में सीबीआई जांच की मांग की है, आज ट्विटर पर यह टॉप ट्रेंड में बना है. सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर सुप्रिया की बताई जा रही है, 22 वर्षीय युवती की लाश देखकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

सुप्रिया तिवारी मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले की है, जो 2 मार्च को सोमनाथ एक्सप्रेस से गुजरात के अहमदाबाद से मध्यप्रदेश के भोपाल आ रही थी, वह कच्छ में अपने बहन के पास गई थी. आस पास बैठे सवारियों ने बताया कि रात 10 बजे के आसपास वह अपने सीट से उठकर बाथरूम की तरफ जाती है, बहुत देर तक वह वापस नहीं तो उन्होंने टीटी को इसकी जानकारी दी.

हालांकि युवती का पर्स व मोबाइल बर्थ पर ही था, काफी देर तक छानबीन के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला. अगले दिन या कहें 3 मार्च को गुजरात के लिमखेड़ा तहसील के गोरियां गांव में रेलवे ओवरब्रिज के पास उसका शव मिला. वह भोपाल में रहकर पीएससी की तैयारी कर रही थी, बेटी के जाने से पूरा परिवार सदमे में है.

परिवार का कहना है बेटी एसी कोच में थी, जिसके सभी गेट बंद होते हैं और साथ में अटेंडेंट होता है फिर बेटी के साथ इतना बड़ा हादसा कैसे हो गया.साढ़े तीन महीने गुजरने के बाद भी हत्या के पीछे कोई चेहरा व किसी का मोटिव सामने नहीं आया है, सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा फूट रहा है.

https://twitter.com/Upswaggerking1/status/1395281546920165379

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.