Shabnam: शबनम बनेगी आजाद भारत की पहली ऐसी महिला, लेकिन ऐसे नाम से बेहतर है गुमनामी

JBT Staff
JBT Staff February 18, 2021
Updated 2021/02/18 at 11:24 AM

Who is Shabnam: आजाद भारत में पहली बार किसी महिला को फांसी होने जा रही है, इसके लिए पवन जल्लाद ने जेल का मुआयना भी कर लिया है, रस्सी का ट्रायल होना बांकी है, साथ ही बहुत जल्द डेट भी निकलने वाली है. अमरोहा के भयानक हत्याकांड (2008) में आखिरकार न्याय होने जा रहा है.

शबनम (Shabnam), रामपुर के जेल में आखिरी सांसें गिन रही है तो उसका सनकी साथी आगरा के जेल में मौत का इंतजार कर रहा है. जिस बर्बरता से उन्होंने 13 साल पहले हत्याकांड को अंजाम दिया था उसके लिए इतना वक्त मिलना 2-2 जिंदगी जीना जैसा है, उनके गांववालों की पुकार है कि दोनों को जल्द से जल्द फांसी पर लटका देना चाहिए. अमरोहा के बावनखेड़ी की शबनम का नाम तक उसके गांव वाले सुनना नहीं चाहते हैं.

गांववालों ने जानकारी भी दी कि शबनम जैसा खूबसूरत नाम रखना कौन नहीं चाहता, 14/15 अप्रैल 2008 से पहले 4-5 नाम की शबनम हुआ भी करती थी जिनकी अब शादी हो चुकी है लेकिन इस भयानक हत्याकांड के बाद कोई अपनी बच्ची का नाम शबनम नहीं रखता, इसे नाम का खौफ कहें या नफरत, इस नाम को अब कोई पसंद नहीं करता है.

आखिर किया क्या था शबनम ने?

शबनम ने सलीम नाम के युवक से मोहब्बत की थी जो शायद कुछ को छोड़ कर सभी के नजर में ठीक ही है, लेकिन मोहब्बत जैसी खूबसूरत चीज के बीच आ रही अड़चनें शबनम को ऐसी खटकी कि उसने धारदार हत्यार कुल्हाड़ी से उन्हें चीर देना चाहा, यह अनहोनी रुक भी सकती थी लेकिन उसके प्रेमी सलीम के सर भी खून सवार था.

दोनों ने मिलकर जो कदम उठाया उसके बारे में जानकार रूह कांपती है, प्राइमरी विद्यालय में शिक्षक शौकत अली की बेटी शबनम ने अपने पिता, मां हाशमी, भाई अनीस, राशिद, भाभी अंजुम, फूफेरी बहन राबिया सहित 7 लोगों को काटकर मार डाला था.

पढ़ी लिखी थी शबनम

एक शिक्षक की बेटी शबनम भी शिक्षामित्र थी लेकिन 8वीं पास गांव के ही सलीम से उसे ऐसा इश्क हुआ कि दोनों ने खून की होली खेल डाली, मासूमों को घाट उतारते हुए शबनम-सलीम की जोड़ी को जरा भी रहम नहीं आया. खूंखार अपराधियों की दया याचिका राष्ट्रपति द्वारा भी खारिज हो चुकी है, दोनों का एक 12 साल का बेटा भी है.

TAGGED: ,
Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.