National

रोहित शेखर मर्डर केस: कौन है ND तिवारी की बहु अपूर्वा, रोहित शेखर से कैसे हुआ प्यार

Rohit Shekhar Tiwari Murder Case Solved: लोकसभा चुनाव 2019 का पहला चरण 11 अप्रैल को शुरू हुआ था, इसी के चलते स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित वोट देने उत्तराखंड आये थे, 15 को वापस दिल्ली पहुंचे तो उनकी मौत की खबर आई.

साल 2018 के 18 अक्टूबर को खुद पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी (Narayan Dutt Tiwari) ने अंतिम सांस ली थी, एक साल भी पूरा नहीं हुआ था कि परिवार में बेटे रोहित की मौत से हडकंप मच गया.

रोहित का कत्ल किसी और ने नहीं बल्कि उनकी वाइफ अपूर्वा शुक्ला तिवारी ने किया है, इस बाद की आज पुष्टि हो चुकी है. पहले हार्ट अटैक (Heart Attack) या ब्रेन हेमरेज (Brain Hemorrhage) की बात कहकर मौत की चर्चा हुई लेकिन जब पोस्टमार्टम हुआ तो पता चला यह मर्डर है.

यह भी पढ़ें:  गुजरात: बढ़ती गर्मी से परेशान महिला ने कार पर पोत डाला गाय का गोबर, वायरल हुई तस्वीरें

उनकी वाइफ अपूर्वा ने सबूत तो मिटाए ही हैं, साथ ही पुलिस को बरगलाने की कोशिश भी की. बाद में सच्चाई सामने आई तो, अपूर्वा कहती हैं कि लेट रात में वे अंतरंग हुए थे हो सकता है मुंह या गला दब गया हो.

उस रात रोहित बेहद नशे में भी थे लेकिन इस तरह के बयान देकर अपूर्वा खुद फंसती चली गयी. पुलिस ने उन्हें मर्डर के 8 दिन बाद दिल्ली से अरेस्ट कर लिया है.

कौन है अपूर्वा शुक्ला (Apoorva Shukla)?

अपूर्वा पेशे से एक वकील हैं, शायद तभी वह केस को उलझाने की कोशिश में लगी थी. 34 साल की अपूर्वा मध्यप्रदेश के इंदौर के रहने वाली हैं व सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्ता हैं.

यह भी पढ़ें:  वायरल: परिवार में 9 वोटर फिर भी खुद के 5 वोट, जानिए फूटकर रोने वाले नीतू शटरांवाला की कहानी

दो साल पहले ही यह लव स्टोरी शुरू हुई थी, 2017 में एक मैट्रोमोनियल साईट के जरिए दोनों के बीच बातचीत शुरू हुई, दोस्ती के बाद प्यार शुरू भी हुआ, मार्च में सगाई के बाद जल्द ही मई में शादी हुई.

क्या रही होगी मर्डर की वजह?

अपूर्वा ने बयान दिया है कि रोहित उनसे अक्सर झगड़ते थे, रोज घर में किसी न किसी बात को लेकर विवाद हुआ करता था. लेकिन रोहित की माँ उज्ज्वला का दावा है कि अपूर्वा की नजर सम्पति पर थी.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top