India News

Prayagraj: महिला ने अपने बच्चे को चलती ट्रेन से फेंका, पिता ने बचाई मासूम की जान

Prayagraj: मां को धरती पर भगवान का रूप कहा जाता है लेकिन अपवाद हर जगह देखे जा सकते हैं, मां अपने बच्चे को चलती ट्रेन से फेंक दे ऐसा शायद ही किसी ने सोचा होगा, खासकर वो बच्चा जिसने न अभी चलना सीखा और न ही बोलना.

उत्तर प्रदेश का यह मामला काफी तूल पकड़ रहा है लेकिन इसमें हैरानी की बात यह कि बच्चे की मां की मानसिक हालत ठीक नहीं बताई जा रही है, शायद तभी उसने अपने एक साल के मासूम को चलती ट्रेन से फेंक डाला था, गनीमत ये रही कि ट्रेन की स्पीड ज्यादा नहीं थी और बच्चा किसी ज्यादा गलत जगह नहीं गिरा.

यह भी पढ़ें:  UP: सास को आधी उम्र के दामाद से हुआ इश्क, परिवारों के लाख कोशिशों के बाद भी नहीं हुए अलग

मासूम बच्चे के पिता ने तुरंत ट्रेन से कूद मारकर बच्चे को उठाया और फिर इलाज के लिए हॉस्पिटल ले गया. यमुनापार के छिवकी जंक्शन की इस घटना पर प्रथम दृश्या लोगों का गुस्सा फूट रहा है लेकिन बाद में पता चला कि मां की मानसिक कंडीशन ठीक नहीं है, यही वजह है कि पुलिस ने भी इसमें कोई कार्रवाई नहीं की है.

आज तक की रिपोर्ट का कहना है आरपीएफ और जीआरपीकी टीमें मौके पर मौजूद रही, उनकी मदद से बच्चे को इलाज के लिए पहुंचाया गया है. बताया जा रहा है कि बच्चा काफी रो रहा था तभी पिता मां को दूध पिलाकर चुप कराने को कहता है लेकिन दोनों के बीच बहस हो जाती है, मां बच्चे की जान की परवाह किए बिना उसे नीचे फेंक देती है.

यह भी पढ़ें:  Uttarakhand: बीजेपी विधायक सुरेश राठौर पर लगा रेप का आरोप, विधायक को है जान का खतरा

दंपति चुनर मिर्जापुर से मुंबई की तरफ रवाना था, पति शिवम सिंह मुंबई में सिक्यूरिटी गार्ड की नौकरी करता है, वह लॉकडाउन खत्म होने के बाद वापस ड्यूटी पर लौट रहा था लेकिन हादसा होने के बाद वापस घर लौटा है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top