Nikita Tomar Murder: मिर्जापुर से प्रेरित होकर लेली थी निकिता की जान, दोषियों को उम्रकैद की सजा

JBT Staff
JBT Staff March 26, 2021
Updated 2021/03/26 at 5:24 PM

Nikita Tomar Murder: हरियाणा के फरीदाबाद में आज से 5 महीने पहले दो जाहिलों ने एक हंसती खेलती जिंदगी को हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया, अपराधी का हौंसला इतना बुलंद था कि शायद कभी उसने सोचा होगा कि उसे सारी जिंदगी अब जेल की रोटी खानी पड़ेगी.

रसूखदार परिवार से ताल्लुक रखने वाला अपराधी आखिरकार अपने किए की सजा भुगतने वाला है, फिल्मी कहानियों से प्रेरित होने वाले इस बदमाश को लगा वह आशिकी का नशा कर हीरो बन जाएगा लेकिन वह हकीकत कोसों दूर था, आख़िरकार दबंगई का सही अंजाम आज सबके सामने है.

मुख्य आरोपी तौसीफ व उसके दोस्त रेहान को फरीदाबाद की फास्टट्रैक कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुना दी है. कोर्ट में लम्बी बहस के बाद 26 मार्च को सख्त सजा का ऐलान हुआ. देश में बहुत से लोग उम्रकैद की सजा से खुश हैं लेकिन निकिता के घरवाले फांसी से कम कुछ नहीं समझते हैं, बेटी को खुलेआम गोली मारने वालों के लिए वह फांसी की मांग कर रही हैं.

दोषी पक्ष के वकील ने बचाव में कहा कि अपराधी एक मेडिकल स्टूडेंट था और इस हत्याकांड से पहले उसका कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा था ऐसे में फांसी की सजा नजरअंदाज कर इस बात को ध्यान में रखा जाए.

वीडियो में साफ नजर आ रहे तौसिफ व रेहान के अलावा अजरुद्दीन नाम के युवक का भी इस केस में हाथ माना जा रहा था लेकिन उसपर आरोप सिद्ध नहीं हो पाए और उसे बाइज्जत बरी किया गया है. सोशल मीडिया पर इस मर्डर की विडियो खूब वायरल हुई.

आपको इस बहुचर्चित हत्याकांड की याद दिलाते बताते हैं कि 26 अक्टूबर 2020 को शहर के बल्लभगढ़ में 21 वर्षीय छात्रा निकिता का एक सनकी आशिक द्वारा मर्डर किया गया था.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.