Nikita Dhaundiyal: शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल की पत्नी जल्द बनेंगी आर्मी ऑफिसर, मेरिट का कर रही हैं इंतजार

JBT Staff
JBT Staff February 18, 2020
Updated 2020/02/18 at 12:48 PM

Nikita Dhoundiyal: साल 2019 की 14 फरवरी, भारतीय इतिहास के काले दिनों में से एक है जब CRPF के 40 जवानों ने देश के खातिर अपने प्राणों की बलि दी, इसका बदला लेते हुए सेना ने कई आतंकियों को ढेर किया लेकिन देहरादून के दो लाल इस दौरान शहीद हो गए.

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के रहने वाले मेजर विभूति ढौंडियाल (Vibhuti Dhoundiyal) अपने पीछे पत्नी, माँ व 3 बहनों को छोड़ गए, 2018 में ही उनकी शादी निकिता से हुई थी. निकिता ने उनके शहादत के बाद परिवार को संभाला, जिस तरह उन्होंने विभूति को अंतिम विदाई दी थी वह भी सुर्ख़ियों का हिस्सा रहा.

उन्होंने जज्बात भरे भाषण से पति को विदाई दी थी, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने उनके हौंसले को सलाम ठोका था, आज उन्होंने इस हौंसले को और भी मजबूत कर दिया है.

सूत्रों की मानें तो निकिता ने टेस्ट व इंटरव्यूज में सफलता हांसिल कर ली है और अब बस उन्हें मेरिट का इंतजार है, उनका कहना है कि वह जरुर मेरिट में भी जगह बना लेंगी. निकिता का आर्मी ज्वाइन करने का फैसला हर किसी को प्रेरित कर रहा है, सोशल मीडिया पर उन्हें खूब सरहा जा रहा है. अब वो दिन दूर नहीं जब वह भी पति की तरह आर्मी यूनिफार्म में इंडियन आर्मी का हिस्सा बनेंगी.

34 वर्षीय मेजर विभूति ने कई सैन्य ऑपरेशन में हिस्सा लिया था, इसी वजह से उन्हें मरणोपरांत शौर्य चक्र दिया गया. आपको बता दें 17 फरवरी को टीम का नेतृत्व कर रहे विभूति के गले व सीने पर गोली लग गयी थी, इससे पहले उनकी टीम ने आतंकियों को करारा जवाब दे दिया था.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.