Ratan Lal: केंद्र व केजरीवाल सरकार ने 1-1 करोड़ की सम्मान राशि का किया ऐलान, बेटे की बातें सुन हो जाएंगे भावुक

JBT Staff
JBT Staff February 27, 2020
Updated 2020/02/27 at 11:17 AM

Head Constable Ratan Lal: देश की राजधानी दिल्ली में नागरिकता कानून के समर्थकों व विरोधियों ने ऐसा खुनी खेल खेला कि हर किसी आखें नाम हैं, और मन विचलित है. 2 पुलिस के जवान रतन लाल व अंकित शर्मा सहित 24 लोग इस भीषण हिंसा के शिकार हो गए, 250 लोग अस्पतालों में भर्ती हैं.

दिल्ली जिस नफरत के आग में जल रही है, यह बेहद चिंताजनक है. नेशनल सिक्यूरिटी सलाहकार अजीत डोभाल ने चौथे दिन हिंसा ग्रसित जगहों का जायजा लिया, लोगों को शांति सन्देश दिया, भरी संख्या में पुलिस तैनात की गई. जन माल का खूब हानि होने के बाद पता चला यह क्या हो गया, इसकी क्या जरूरत थी.

बुखार के बाद भी ईमानदारी से ड्यूटी कर रहे रतन लाल जाफराबाद में शहीद हो गए, घर में तीन छोटे बच्चे, 70 वर्षीय माँ, पत्नी को छोड़कर वह गए तो इलाके में हर किसी की आख्ने नम हो गयी, 7 वर्षीय बेटे ने उन्हें मुखाग्नि दी, और बोला वह बड़ा होकर पापा की तरह दिल्ली पुलिस में नौकरी देगा.

बीते बुधवार रतन लाल का अंतिम संस्कार पैतृक गांव तिहावली में किया गया, तीन भाइयों में से वह सबसे बड़े थे. उनके अंतिम संस्कार में लाखों लोग पहुंचे, सभी की आखों में आंसू थे. मौत से तीन दिन पहले उन्होंने शादी की 13वीं वर्षगांठ बनाई थी. 12 वर्षीय बेटी सिद्धि व 10 वर्षीय बेटी कनक का रो रो कर बुरा हाल है, जबकि माँ व पत्नी कई बार बेसुध हो चुकी हैं.

दिल्ली सीएम ने घर में एक सरकारी नौकरी व 1 करोड़ सम्मान राशि देने का ऐलान किया है, जबकि सीएम केजरीवाल ने इस बात का भी खुलासा किया कि केंद्र सरकार भी 1 करोड़ रुपए की मदद कर रही है.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.