Maharashtra: छोटी सी बात पर मां को मारा फिर दिल, आंत, गुर्दा पकाकर खा गया, कलयुगी बेटे को सजा-ए-मौत

JBT Staff
JBT Staff July 9, 2021
Updated 2021/07/09 at 5:42 PM

Maharashtra Kolhapur Murder Case Verdict: मां को धरती पर भगवान का रूप कहा जाता है, कहते हैं भगवान खुद जमीन पर नहीं आ सकता है इसलिए उसने मां बनाई है जो बच्चों को अपनी खुशी को कुर्बान कर पालती है लेकिन महाराष्ट्र के कोल्हापुर की खबर दिल दहला देती है.

गुरुवार को महाराष्ट्र के स्थानीय अदालत ने मां को मारकर दिल, गुर्दा व आंत निकालकर मसाले लगाकर खाने वाले शख्स को फांसी की सजा सुना दी है. 35 वर्षीय यह कलयुगी बेटा जिसका नाम सुनील है, 2017 में किए जघन्य अपराध के बाद से ही जेल में है, स्थानीय कोर्ट ने भले ही सजा सुनाई है लेकिन उसके पास सजा से बचने के अभी काफी उपाय हैं.

शराब का आदी सुनील चार साल पहले मां से पैसे मांगता है लेकिन शराबी बेटे को पैसे देने से इंकार करना मां के लिए इतना खौफनाक साबित हुआ कि शायद वो अब भी कहीं से देख रही होंगी तो दरिंदे की मां होने पर अफसोस कर रही होंगी. सुनील कुचिकोरवी नाम के इस दरिंदे के जुर्म ने जज को भी हैरान कर दिया.

इस सजा का ऐलान करते हुए जिला अदालत के जज महेश जाधव इसे बेहद जघन्य व रेयर ऑफ रेयरेस्ट बताया, बताते हैं कि इस तरह का मामला कभी नहीं देखा. वारदात 28 अगस्त 2017 की है, जब एक दरिंदे ने 62 वर्षीय मां को न सिर्फ मौत के घाट उतारा बल्कि मौत के बाद भी चैन से नहीं रहने दिया, ऑर्गंस को निकालकर नमक-मिर्च लगाकर खा गया.

बॉडी अलग-अलग हिस्सों में कटी थी जिसकी वजह से कड़ी जांच हुई और सुनील ने कबूल किया कि उसने मां का चाकू गोदकर हत्या के बाद कुछ अंग पकाकर खाए हैं. इस मामले में पड़ोसी, रिश्तेदार सबको मिलाकर 12 लोगों की गवाही हुई थी, बताया जाता है कि जिस वक्त उसे घर में देखा गया मुंह पर खून लगा था, घर से धारदार चाकू मिला.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.