India News

Karnataka: इस युवक ने रचाई सगी बहनों से एक साथ शादी, अब पड़ा कानूनी पचड़े में

Karnataka: दो सगी बहनों से एक शख्स ने एक ही मंडप पर शादी रचा ली, शादी का दिन 7 मई का बताया जा रहा है लेकिन दस दिन बाद शादी फिर एक बार चर्चा में इसलिए आ गई क्योंकि लोगों ने शादी की वीडियो व तस्वीरें वायरल करने शुरू कर दिए और इस तरह की बहुविवाह या कहें द्विविवाह का विरोध किया.

शादी की वीडियो के आधार पर भले ही दूल्हे को लोग खरी खोटी सूना रहे हों लेकिन इस शादी के पीछे का कारण दूल्हा नहीं बल्कि दुल्हन है जो शर्त रखती है कि उसकी छोटी बहन के साथ भी व्याह रचा कर अपने घर ले जाना होगा, छोटी बहन नाबालिग है और बोलने में असमर्थ है.

यह भी पढ़ें:  Suresh Raina: खुद को ब्राह्मण बताने पर ट्रोल हुए क्रिकेटर सुरेश रैना, फैंस उतरे सपोर्ट में

इस तरह दूल्हे राजा दोनों तरफ से घिर चुके हैं, पहला धर्म में द्विविहाह स्वीकार नहीं और दूजा नाबालिग से शादी नहीं की जा सकती है. कर्नाटक के कोलार जिले में उमापति का विवाह इसी महीने की 7 तारीख को संपन्न हुआ, दूल्हे के साथ एक नहीं बल्कि 2 दुल्हनें सज धज के बैठी जिसके बाद शादी इलाके में चर्चा का विषय बनी, अब तो पूरे देश में शादी के चर्चे हैं.

जिले के मुलबगल स्थित कुरु दुमले मंदिर में जो ये शादी हुई उसमें सभी की रजामंदी थी, दरअसल उमापति की मंगेतर ने शर्त रखी कि उसकी बहन से भी शादी करनी पड़ेगी, पहले तो दूल्हा व परिवार वाले असमंजस में थे लेकिन बाद में मान गए. वीडियो वायरल होने के बाद उमापति जेल चला गया है.

यह भी पढ़ें:  Prayagraj: महिला ने अपने बच्चे को चलती ट्रेन से फेंका, पिता ने बचाई मासूम की जान

उसपर हिंदू विवाह अधिनियम के तहत आईपीसी धारा 494 का मुकदमा दर्ज है जिसके अनुसार द्विविवाह एक दंडनीय अपराध है. हालांकि परिवार वालों ने रजामंदी की बात कहते हुए बेटे की जमानत के लिए आग्रह किया है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top