India News

Jaunpur: पत्नी का शव साइकिल से ले जा रहे बुजुर्ग की तस्वीर ने दिखाई कोरोना काल की दर्दनाक हकीकत

Jaunpur: कोरोना संकट काल की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, दिल को झकझोर देने वाली यह तस्वीर एक बुजुर्ग की है जो पत्नी का शव साइकिल से ले जा रहे हैं. आखिर ऐसी नौबत क्यों आई, तस्वीर की हकीकत और भी दर्दनाक है.

साढ़े तीन लाख से ज्यादा कोरोना के मामले हर दिन देश में आ रहे हैं, जहां कुछ अंजान भी एक दूजे की मदद कर रहे हैं तो वहीं कुछ जान पहचान वाले भी इस मुश्किल वक्त में पीछा छुड़ा रहे हैं. नागपुर के नारायण भाऊराव थे कि उन्होंने एक अंजान के लिए हॉस्पिटल में बेड छोड़ते कहा कि उन्होंने अपनी जिंदगी जी ली, उनकी उम्र 85 साल की है.

यह भी पढ़ें:  Bill Gates Divorce: दुनिया के सबसे अमीर शख्स रहे बिल गेट्स का हुआ तलाक, आपसी सोच विचार के बाद तोड़ी 27 साल की शादी

वहीं उत्तर प्रदेश के जौनपुर का एक गांव ऐसा है जहां के लोग बुजुर्ग को उसकी पत्नी का शव नहीं जलाने दे रहे हैं क्योंकि उन्हें लगता है वह कोरोना पॉजिटिव हैं. उम्रदराज शख्स पत्नी के शव को साइकिल में ले जा रहा है ताकि किसी अच्छी जगह उसका अंतिम संस्कार किया जा सके लेकिन तपतपाती धूप में वह जैसे जैसे आगे बढ़ाता है.

आज तक की रिपोर्ट कहती है कि जौनपुर के मडियाहूं कोतवाली इलाके के तिलकधारी सिंह अपनी पत्नी राजकुमारी देवी का शव ले जा रहे हैं, काफी दिनों से वह बीमार चल रही थी जिसके चलते जिला अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था, कल वह जिंदगी से जंग हार गई और अस्पताल से शव एम्बुलेंस से घर छोड़ दिया गया था, गांव वालों में कोरोना का खौफ ऐसा था कि कोई तिलकधारी सिंह के घर नहीं पहुंचा.

यह भी पढ़ें:  Raai Laxmi Photos: वेट लॉस के बाद राय लक्ष्मी हो चुकी और भी हॉट, कहीं देखा है ऐसा ट्रांसफॉर्मेशन

पुलिस को घटना की जानकारी लगी तो तुंरत मदद की गई, पुलिस के ही मदद से शव पर कफन लपेटा गया और रामघाट पर अंतिम संस्कार किया गया,गांववालों में से कोई बखेड़ा खड़ा न करे इसलिए पुलिस की ही निगरानी में अंतिम संस्कार हुआ.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top